भारतीय क्रिकेट टीम के ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या की लंदन में पीठ की सर्जरी सफल रही, जिसके कारण उन्हें लगभग चार महीने तक क्रिकेट से बाहर रहना पड़ सकता है.

IND v SA : रोहित का शतक, दक्षिण अफ्रीका के सामने 395 रन का लक्ष्य

जानकारी के अनुसार हार्दिक के कम से कम 12 से 16 सप्ताह (तीन से चार महीने) तक क्रिकेट से बाहर रहने की संभावना है और उम्मीद है कि वह इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) से पहले मैच फिट हो जाएंगे.

बीसीसीआई ने शनिवार को मेडिकल बुलेटिन जारी कर कहा, ‘हार्दिक पांड्या ने बेंगलुरू में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 22 सितंबर को भारत के अंतिम टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच के बाद पीठ के निचले हिस्से में दर्द की शिकायत की थी. बीसीसीआई की मेडिकल टीम ने इंग्लैंड में रीढ की हड्डी विशेषज्ञ के पैनल से बात की और उन्होंने सर्जरी की सलाह दी.’

उन्होंने कहा, ‘यह ऑलराउंडर दो अक्टूबर को टीम इंडिया के फिजियोथेरेपिस्ट योगेश परमार के साथ लंदन गया. शुक्रवार को सर्जरी हुई जो सफल रही. हार्दिक जल्द ही रिहैबिलिटेशन प्रक्रिया शुरू कर देंगे.’

हार्दिक ने शनिवार को इंस्टाग्राम अकाउंट पर फोटो लगाते हुए लिखा, ‘सर्जरी सफल रही. आप सभी की शुभकामनाओं के लिए शुक्रिया. जल्द ही वापसी करूंगा. तब तक मेरी कमी महसूस कीजिए.’

टेस्ट की दोनों पारियों में स्टंप आउट होने वाले पहले भारतीय बने रोहित शर्मा

भारत के मुख्य तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह भी पीठ में ‘स्ट्रेस फ्रेक्चर’ के कारण दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ चल रही टेस्ट श्रृंखला से बाहर हैं.

हार्दिक भारतीय टीम के दूसरे अहम सदस्य है, जो टीम से बाहर चल रहे हैं. बड़ौदा का यह ऑलराउंडर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी-20 अंतरराष्ट्रीय सीरीज में खेला था और चोट के कारण टेस्ट श्रृंखला से बाहर हो गया. वह बांग्लादेश के खिलाफ टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच भी नहीं खेल पाएंगे.

हार्दिक को पिछले साल सितंबर में संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में एशिया कप के दौरान चोट लगी थी. वह आईपीएल और विश्व कप में खेलने के लिये फिट हो गए थे, लेकिन बाद में फिर उन्हें यह चोट परेशान करने लगी.