भारतीय क्रिकेट टीम के ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या बांग्लादेश के खिलाफ आगामी टी-20 अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला के अलावा लंबे समय तक टीम से बाहर हो सकते है क्योंकि उनकी पीठ के निचले हिस्से में एक बार फिर से दर्द शुरू हो गया है. Also Read - RCB vs MI: पहले मैच में Hardik Pandya ने नहीं की गेंदबाजी, क्‍या फिर चोटिल हो गए हैं पांड्या, क्रिस लिन ने किया खुलासा

Also Read - ICC World Cup Super League points table: द. अफ्रीका को हराकर दूसरे स्‍थान पर पहुंचा पाकिस्‍तान, भारत की हालत पतली

टेनिस मैच के दौरान ‘बॉल गर्ल’ को ‘हॉट’ कहने पर अंपायर पर प्रतिबंध Also Read - Sourav Ganguly का बड़ा बयान, बोले- कप्तानी से हटाने के बाद टीम से बाहर होना 'सबसे बड़ा झटका'

बीसीसीआई सूत्र के अनुसार चोट की समीक्षा के लिए हार्दिक जल्द ही चिकित्सकों से मिलने इंग्लैंड जाएंगे. पिछले साल सितंबर में दुबई में खेले गये एशिया कप के दौरान उन्होंने पहली बार पीठ के निचले हिस्से में दर्द की शिकायत की थी.

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला से चोट के कारण बाहर होने वाले पांड्या टीम के दूसरे खिलाड़ी है. उनसे पहले तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह भी स्ट्रेस फ्रेक्चर (पीठ के निचले हिस्से में दर्द) के कारण टीम से बाहर हो गए हैं.

बीसीसीआई के एक सूत्र ने गोपनीयता की शर्त पर बताया, ‘हार्दिक इंग्लैंड जाने वाले हैं. वह उसी चिकित्सक से परामर्श लेंगे जिसने पहली बार उनके चोटिल होने के बाद इलाज किया था. वह बांग्लादेश के खिलाफ श्रृंखला में नहीं खेलेंगे हालांकि अभी यह पता नहीं है वह कितने समय तक टीम से बाहर रहेंगे. इसके बारे में उनके इंग्लैंड से वापस आने के बाद ही पता चलेगा.’

थिरिमाने ने रिकॉर्ड साझेदारी करने वाले जयसूर्या और शनाका के बारे में कही ये बात

सर्जरी हुई तो वह 2020 आईपीएल से पहले वापसी नहीं कर पाएंगे

ऐसी भी चर्चा है कि हार्दिक को पीठ की सर्जरी करवानी पड़ सकती है जिससे वह लगभग पांच महीने तक मैदान से दूर रहेंगे.

सूत्र ने कहा, ‘ दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला से उन्हें बाहर इसलिए रखा गया कि वह टीम संयोजन में फिट नहीं बैठ रहे थे. लेकिन वह विजय हाजरे ट्रॉफी में बडौदा की टीम में भी नहीं है जिसकी कप्तानी क्रुणाल पांड्या कर रहे हैं. हर कोई यही प्रार्थना कर रहा है कि उन्हें सर्जरी की जरूरत नहीं पड़े. सर्जरी हुई तो वह 2020 आईपीएल से पहले वापसी नहीं कर पाएंगे.

पच्चीस साल के पांड्या ने 11 टेस्ट में 17 विकेट लेने के साथ 532 रन बनाए हैं. उन्होंने 54 एकदिवसीय में 937 रन बनाए हैं और 54 विकेट लिए हैं. टी-20 अंतरराष्ट्रीय के 40 मुकाबले में उनके नाम 310 रन और 38 विकेट हैं.