भारतीय टीम के ऑलराउंडर खिलाड़ी हार्दिक पांड्या पूर्व दिग्गज राहुल द्रविड़ की टीम की निगरानी में बैंगलुरू स्थित नेशनल क्रिकेट अकादमी में रिहैब प्रक्रिया शुरू करेंगे। न्यूजीलैंड दौरे पर जाने वाली टी20 टीम से बाहर हो चुके पांड्या का लक्ष्य वनडे या टेस्ट टीम में जगह बनाने का होगा।

मुंबई में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए पहले वनडे में अभ्यास के दौरान टीम मैनेजमेंट ने पांड्या से कहा था कि वो एनसीए में अपना रिहैब पूरा करें।

टीम मैनेजमेंट से जुड़े सूत्र ने आईएएनएस को बताया कि पांड्या से एनसीए में रिहैब पूरा करने को कहा गया है और इसे पूरा होने में तकरीबन 15-20 दिन का समय लगेगा।

ICC ODI Rankings: बल्लेबाजों की सूची में रोहित-कोहली का जलवा; गेंदबाजों की लिस्ट में बुमराह का दबदबा जारी

सूत्र ने बताया, “जब पांड्या ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले जाने वाले मैच से पहले भारतीय टीम के साथ अभ्यास किया था तो टीम मैनेजमेंट ने उनसे मंगलवार से ट्रेनिंग शुरू करने को कहा गया था। ये दो हफ्ते का कार्यक्रम होगा इसके बाद वो अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के लिए तैयार होंगे।”

रीहैब के लिए हर हाल में एनसीए ही आएंगे खिलाड़ी: गांगुली

पांड्या और बुमराह ने अपनी चोटों को ठीक करने के लिए दिल्ली कैपिटल्स के ट्रेनर राजनीकांत शिवागनम की सेवाएं ली थीं। बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने हालांकि साफ कर दिया है कि सभी खिलाड़ियों को एनसीए में रिहैब करना होगा।

गांगुली ने कहा था, “मैं द्रविड़ से मिला था, हमने एक सिस्टम बना दिया है। गेंदबाजों को एनसीए जाना होगा। अगर किसी और ने उनका इलाज किया है तो उन्हें एनसीए आना होगा। कारण जो कोई भी हो, हम हर चीज को समायोजित कर लेंगे। हम इस बात को भी सुनिश्चित करेंगे कि खिलाड़ी यहां आराम से रहे और उसे ऐसा नहीं लगे कि वह अलग-थलग है।”