नई दिल्ली: बेल्जियम से 2-0 हार कर फीफा विश्व कप में चौथे स्थान पर रहने वाली इंग्लैंड फुटबॉल टीम के कप्तान हैरी केन ने कहा है कि उनकी टीम इससे अच्छा प्रदर्शन कर सकती थी. केन ने इंग्लैंड के लिए टूर्नामेंट में छह गोल किए. उन्होंने कहा कि कोलंबिया के खिलाफ अंतिम-16 के बाद से गोल न करने का उन्हें अफसोस है. दिलचस्प बात यह है कि केन अब भी फीफा विश्व कप 2018 में गोल्डन बूट के दावेदार बने हुए हैं.Also Read - 'ये मेरे करियर का वो समय है जहां मुझे देखना होगा कि मैं कहां हूं' ; टॉटेनहम हॉट्सपर के साथ भविष्य पर बोले हैरी केन

Also Read - टॉटेनहम क्लब छोड़ना चाहते हैं स्टार फुटबॉलर हैरी केन; Man Utd, Man City और Chelsea ने दिखाई दिलचस्पी

केन ने शनिवार को मैच के बाद कहा, “आज के (बेल्जियम के साथ मैच में) प्रदर्शन से यह जाहिर होता है कि अब भी टीम में सुधार की गुंजाइश है. हम कोई खत्म सामान नहीं हैं. हम और बेहतर करेंगे.” उन्होंने कहा, “एक और विश्व कप सेमीफाइनल के लिए हम 28 साल का इंतजार नहीं कर सकते. यह वह स्तर पर है जिस पर हम रहना चाहते हैं.” Also Read - ICC World Cup 2019: इंग्लैंड फुटबाल स्टार हैरी केन ने कोहली के साथ खेला क्रिकेट, दी शुभकामनाएं

टीम इंडिया के फैन्स ने धोनी की हूटिंग की, चहल ने दिया ये जवाब

शनिवार को तीसरे स्थान के लिए खेले गए मैच में बेल्जियम के लिए थॉमस मुनिएर ने चौथे और ईडन हेजार्ड ने 82वें मिनट में गोल किए. इंग्लैंड को इससे पहले सेमीफाइनल में 1-0 की बढ़त लेने के बावजूद अतिरिक्त समय में क्रोएशिया से 1-2 से हार का सामना करना पड़ा था.

FIFA 2018: खिताबी मुकाबले में फ्रांस का मुकाबला क्रोएशिया से

बता दें कि फीफा विश्व कप के इस सीजन में  हैरी केन गोल्डन बूट के प्रबल दावेदार हैं. अब खेले गए मुकाबलों में केन ने सबसे ज्यादा गोल किए हैं. उन्होंने एक हैट्रिक के साथ कुल 6 गोल किए हैं. इससे वो अभी भी पहले नंबर पर बरकरार हैं. जब कि बेल्जियम के खिलाड़ी लुकाकू दूसरे स्थान पर काबिज हैं. उन्होंने कुल 4 गोल किए हैं. इसके साथ ही रोनाल्डो भी 4 गोल के साथ दूसरे स्थान पर हैं.