नई दिल्ली.  हांगकांग के विकेटकीपर बल्लेबाज क्रिस कार्टर ने पायलट बनने के अपने सपने को पूरा करने के लिए क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला किया है. 21 साल के कार्टर ने 2014 में हांगकांग की राष्ट्रीय में वापसी की थी. इसके बाद से अब तक उन्होंने अपने देश के लिए 11 वनडे और 10 टी-20 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेले हैं. लेकिन अब पायलट बनने के लिए उन्होंने क्रिकेट को अलविदा कह दिया है.

पायलट बनना था सपना

आईसीसी वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार, कार्टर अब एडिलेड जाएंगे, जहां वह द्वितीय श्रेणी वर्ग का अधिकारी बनने के लिए 55 सप्ताह की ट्रेनिंग करेंगे. उन्होंने कहा, “मैंने क्रिकेट के लिए पहले ही अपनी पढ़ाई को रोका हुआ है. मुझे लगता है कि ये वह करने का समय है जो मैं हमेशा करना चाहता था. मुझे पायलट बनना है.”

एशिया कप में हांगकांग ने लिया था हिस्सा

हांगकांग की टीम ने हाल ही में एशिया कप में भाग लिया था, जहां वह ग्रुप चरण में ही बाहर हो गई थी.