कोरोना वायरस के बीच बायो बबल में खेली जा रही टी20 लीग आईपीएल (IPL 2021) को मंगलवार को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करना पड़ा. बायो बबल में खेले जाने के बावजूद लगभग एक ही समय के दौरान 4 अलग-अलग टीमों के बबल लीक पाए गए और उनमें इस घातक कोरोना वायरस की एंट्री पाई गई. इसके बाद आयोजकों ने तुरंत इस लीग को स्थगित करने का फैसला ले लिया. इस फैसले पर पंजाब किंग्स के सह मालिक नेस वाडिया (Ness Wadia) ने अपनी राय रखी है.Also Read - आईपीएल मीडिया राइट्स से BCCI को मोटी कमाई, अब दो सत्रों में खेली जाएगी लीग!

नेस वाडिया ने कोरोना संकट के बीच आईपीएल का 14वां (IPL 14) सत्र भारत में कराने के बीसीसीआई के फैसले का समर्थन करते हुए कहा कि यह सही फैसला था लेकिन हालात तेजी से बिगड़े. दरअसल भारत इस वक्त कोविड- 19 की दूसरी लहर का सामना कर रहा है. इस लहर ने देश में गंभीर रूप अख्तियार कर लिया है. इसके बाद कई जानकार इन हालात में आईपीएल के आयोजन पर सवाल उठा रहे हैं. वाडिया ने कहा कि जब 9 अप्रैल को लीग की शुरुआत हुई थी, तब या उससे पहले हालात काबू में थे और यह अब अचानक ही बेकाबू दिखे हैं. Also Read - नेस वाडिया ने महिला आईपीएल टीम खरीदने में दिखाई दिलचस्‍पी, WC में भारत की हार से हैं निराश

वाडिया ने पीटीआई से कहा, ‘हालात को देखते हुए यह सर्वश्रेष्ठ फैसला था. भारत में लोग काफी जूझ रहे हैं.’ उन्होंने कहा, ‘आईपीएल भारत में कराने का फैसला काफी सोच समझकर लिया गया था. वर्ल्ड कप चूंकि भारत में होना है तो यह सही फैसला था लेकिन हालात काफी तेजी से बिगड़ गए.’ Also Read - IPL 2022: दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान पद से हटाए जाने पर बोले श्रेयस अय्यर-ये बड़ा झटका था

उन्होंने कहा कि यूएई में भी लीग कराने से कुछ नहीं बदलता. उन्होंने कहा, ‘इसका किसी देश विशेष (भारत या यूएई) से कोई सरोकार नहीं है. सभी ने अपनी ओर से पूरी कोशिश की लेकिन कई बार कोशिशें कामयाब होती हैं और कई बार नहीं.’