मुंबई। क्रिकेट के छोटे प्रारूप में लगातार अच्छा प्रदर्शन करने वाले युवा तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने बुधवार को कहा कि वसीम अकरम, ब्रेट ली और मिशेल जॉनसन उनके प्ररेणास्रोत हैं और वह इन्हें काफी पसंद करते हैं। बुमराह ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, “मैं काफी गेंदबाजों को पसंद करता हूं। लेकिन, मेरे पसंदीदा गेंदबाज मिशेल जॉनसन, वसीम अकरम और ब्रेट ली हैं। मैं उनके वीडियो देखकर गेंदबाजी किया करता था।” Also Read - IND vs ENG: अपने घर लौटे Jasprit Bumrah, चौथे टेस्ट में नहीं खेलेंगे

Also Read - India vs England: अहमदाबाद के नए स्टेडियम WTC फाइनल में पहुंचने के दावे को मजबूत करने उतरेगी टीम इंडिया

उन्होंने कहा, “मैंने हर किसी से काफी कुछ सीखा है। मिशेल जानसन से मैंने बहुत कुछ सीखा। लसिथ मलिंगा, जहीर खान से भी मैंने काफी कुछ सीखा। मैं जहां भी जाता था, सीनियर खिलाड़ियों से सवाल पूछता था। मेरा कोई रोल मॉडल नहीं है, मैंने हर सीनियर खिलाड़ी से हमेशा कुछ ना कुछ सीखने की कोशिश की है।” Also Read - IND vs ENG: Jasprit Bumrha बोले- लार पर बैन के चलते पंगु बन गए हैं बॉलर

बुमराह इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में मुंबई इंडियंस की तरफ से खेलते हैं। मुंबई को अपना अगला मैच कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ खेलना है।

बुमराह ने इसी साल जनवरी में आस्ट्रेलिया में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया था। उन्होंने कहा कि आस्ट्रेलिया में खेलने के बाद एशिया कप और टी-20 विश्व कप में खेलने से काफी फायदा मिला। यह भी पढ़े-तस्कीन और अराफात के सस्पेंशन पर भड़के बांग्लादेशी प्रशंसक, बुमरा पर निकाली भड़ास

उन्होंने कहा, “मैंने आस्ट्रेलिया में काफी कुछ सीखा। मैंने एशिया कप, श्रीलंका के खिलाफ श्रृंखला में भी बहुत कुछ सीखा। हमने काफी श्रृंखलाएं खेलीं। भारतीय टीम में रहने से मुझे काफी मदद मिली, क्योंकि टीम में कई सीनियर खिलाड़ी हैं जिन्होंने मेरी मदद की।”

बुमराह ने कहा, “मैं हमेशा किसी न किसी से कुछ न कुछ सीखने की कोशिश करता हूं। यह अनुभव मेरे काम आता है। टी-20 में मैंने कई अंतर्राष्ट्रीय मैच खेले हैं। मैं उस अनुभव का उपयोग आईपीएल में करने की कोशिश कर रहा हूं।”

बुमराह से जब उनकी यार्कर गेंद पर महारत हासिल करने का सवाल पूछा गया तो उनका कहना था, “आप किसी भी चीज में महारत हासिल नहीं कर सकते। मैं अभी भी अभ्यास करता रहता हूं और उसे पालन करने की कोशिश करता हूं। आप एक गेंद के कारण सफल नहीं हो सकते। इसलिए मैं अपनी गति में मिश्रण करता हूं और यार्कर डालने की कोशिश करता हूं।”