नई दिल्ली. टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने हैरान करने वाला बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि वो लोगों और उनकी प्रतिष्ठा के लिए क्रिकेट नहीं खेलते. विराट ने ये बात स्काई स्पोर्ट्स पर माइकल होल्डिंग को दिए अपने इंटरव्यू में कही.Also Read - T20 World Cup 2021: Hardik Pandya को प्लेइंग इलेवन में तभी शामिल करें जब... Gautam Gambhir का बड़ा बयान

Also Read - T20 World Cup 2021: Virat Kohli के लिए जीतो वर्ल्ड कप, Suresh Raina का टीम इंडिया के खिलाड़ियों को मैसेज

विराट को लोगों की नहीं पड़ी! Also Read - भारतीय खिलाड़ियों को विराट कोहली के लिए टी20 विश्व कप जीतना चाहिए: सुरेश रैना

विराट कोहली ने कहा, “मैं लोगों, उनकी धारणाओं और प्रतिष्ठा के लिए नहीं खेलता. मैं सिर्फ टीम की जीत के लिए खेलता हूं. मैंने आंकड़ों के लिए खेलना शुरू नहीं किया था. लोग सिर्फ आपका रवैया और आप मैदान पर क्या कमाल दिखाते हैं उसे याद रखते हैं.”

pjimage (5)

बल्लेबाजी में सफलता का खोला राज

होल्डिंग से बातचीत में टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने बताया कि वो कैसे हर समय रन बनाने में कामयाब हो रहे हैं. उन्होंने कहा, “मैं हर हालत में खुश रहने की कोशिश करता हूं और हर रोज सही चीजें करता हूं. इस तरह से मैं हर चीज का आनंद ले पाता हूं.” उन्होंने कहा कि वो अपनी टीम के लिए खेलते हैं, रिकॉर्ड या आंकड़ों के लिए नहीं. उन्होंने विवियन रिचर्डस की तारीफ की और कहा कि जिस अंदाज में लोगों को उन्होंने प्रेरित किया उसी तरह से वह भी करना चाहते हैं.

बल्लेबाजी में फेल केएल राहुल यहां निकाल रहे हैं ‘भड़ास’, दे रहे हैं नए रिकॉर्ड को अंजाम

विराट पर विव रिचर्ड्स जैसी जिम्मेदारी

विराट ने कहा, “कोई भी विवियन रिचर्ड्स के एवरेज की बात नहीं करता. वे सिर्फ उनके रवैए और जो कमाल उन्होंने मैदान पर दिखाया उसकी बात करते हैं. मेरे ऊपर उसी तरह से लोगों को प्रेरित करने की बड़ी जिम्मेदारी है. इसके लिए मुझे सुबह से लेकर शाम तक सही चीजें करनी होंगी.”

विराट, रन और रिकॉर्ड

बता दें कि कोहली ने टेस्ट क्रिकेट में 5से 6 हजार रन का फासला सिर्फ 14 पारियों में तय कर दिया और इस तरह से वह भारत की ओर से टेस्ट में दूसरे सबसे तेज 6,000 टेस्ट रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए. इंग्लैंड के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज के वो लीडिंग स्कोरर भी हैं.