शिलांग स्थित रॉयल विंगदोह फुटबाल क्लब ने खुद को आई-लीग से अलग कर लिया है। क्लब ने बीते सत्र में आई-लीग में पदार्पण किया था और शानदार प्रदर्शन करते हुए तीसरा स्थान भी हासिल किया, लेकिन इस साल कई कारणों से उसने खुद को लीग से अलग करने का फैसला किया है। यह भी पढ़े – आईएसएल, आई-लीग के एकीकरण का सही वक्त नहीं :बाएचुंग भूटिया Also Read - खाली स्टेडियम में खेले जाएंगे I-LEAGUE के बचे हुए सभी मुकाबले

Also Read - भारतीय खेलों पर CoronaVirus की पड़ी मार: इन प्रतियोगिताओं से दर्शकों को रखा जाएगा दूर

इस साल आई-लीग से नाता तोड़ने वाला रॉयल विंगदोह तीसरा क्लब है। इससे पहले पुणे एफसी और भारत एफसी इस प्रतिष्ठित फुटबाल आयोजन से नाम वापस ले चुके हैं।अपने बयान में क्लब ने साफ किया कि उसे आई-लीग को लेकर कोई रोडमैप नजर नहीं आ रहा है। साथ ही क्लब ने कहा कि लीग में पैसे को लेकर भी अनिर्णय की स्थिति रहती है। यही कारण है कि वह लीग से अलग हो रहा है। Also Read - Sunil Chhetri named as the best player of the I-League । आई-लीग के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुने गए सुनील छेत्री, खालिद जमील बने सर्वश्रेष्ठ कोच