ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्‍तान इयान चैपल (Ian Chappell) ने कहा कि सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के भारत के जज्बे से दूसरी महत्वाकांक्षी टीमों को सीखना चाहिये ताकि टेस्ट प्रारूप सुरक्षित रहे .

हाल ही में टेस्ट सीरीज में दक्षिण अफ्रीका की 3-0 से हार के बाद ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान चैपल ने भारत, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के अलावा बाकी टेस्ट देशों के प्रदर्शन में आई गिरावट पर चिंता जताई .

पढ़ें:- BCCI अध्‍यक्ष बनने के बाद NCA अध्‍यक्ष राहुल द्रविड़ से मिलेंगे दादा, ये है मीटिंग का एजेंडा

चैपल ने ‘ईएसपीएन क्रिकइन्फो’ में अपने काॅलम में लिखा ,‘‘ टेस्ट क्रिकेट के भविष्य को बचाना है तो खेल का स्तर ऊंचा रखना होगा . भारत को प्रतिभाओं का विशाल पूल, अपार आर्थिक संसाधन और आईपीएल होने से काफी फायदा है . दूसरी टीमें भी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन का जज्बा भारत से सीख सकती हैं .’’

भारत ने अपने प्रमुख तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) के बिना भी दक्षिण अफ्रीका का सूपड़ा साफ करके आईसीसी टेस्ट चैम्पियनशिप (ICC Test Championship) तालिका में शीर्ष स्थान पर कब्जा कर लिया है .

पढ़ें:- AUSvsSL: मिशेल स्‍टार्क ने दूसरे टी20 मुकाबले से बनाई दूरी, ये है वजह

चैपल ने कहा ,‘‘ भारतीय गेंदबाजी आक्रमण का कोई जवाब नहीं है . भारत के पास हमेशा से अच्छे स्पिनर थे लेकिन अब बेहतरीन तेज गेंदबाज भी आ गए हैं . हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) ऑलराउंडर की कमी पूरी करते हैं। लिहाजा यह भारतीय आक्रमण किसी भी मैदान पर कहर बरपा सकता है .’’

उन्होंने भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) की खास तौर पर तारीफ करते हुए कहा ,‘‘ भारत के पास विराट कोहली जैसा कप्तान है जो मोर्चे से अगुवाई करता है . लगातार अच्छा खेलने की कोहली की ललक से दूसरों को प्रेरणा मिलती है.’’