आईसीसी ने आज महिला और पुरुष वर्ग में इस दशक की अपनी टीमें घोषित की हैं. भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) भारत की ओर से इकलौते ऐसे खिलाड़ी हैं, जिसने तीनों ही फॉर्मेट में अपनी जगह बनाई है. इतना ही नहीं आईसीसी ने अपनी टेस्ट टीम का कप्तान भी उन्हें ही चुना है. इसके अलावा वनडे और टी20iटीम की कप्तानी की भी बात करें तो यहां भी बाजी भारत के ही हाथ लगी है. Also Read - स्ट्रॉबेरी की खेती कर रहे हैं MS Dhoni, देखें VIDEO, आखिर क्यों बोले- अब खेत पर नहीं जाऊंगा

सीमित ओवरों में सबसे सफल कप्तानों में गिने जाने वाले महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) को आईसीसी ने अपनी वनडे और टी20 इंटरनेशनल टीम का कप्तान चुना है. धोनी वर्ल्ड कप 2019 तक इंटरनेशनल क्रिकेट खेले हैं. लेकिन अपने करियर के अंतिम कुछ सालों में उन्होंने कप्तानी छोड़ दी थी. लेकिन इंटरनेशनल क्रिकेट में कैप्टन कूल के नाम से अपनी छाप छोड़ने वाले धोनी ने अपनी कप्तानी से सभी को इतना प्रभावित किया है कि उन्हें वनडे और टी20I में इस दशक का कप्तान चुना गया है. Also Read - MS Dhoni की बेटी जीवा ने शुरू की कमाई, साइन की यह बड़ी डील

भले इस नए दशक (2011-2020) में में धोनी ने सिर्फ 6 ही साल कप्तानी की थी. लेकिन इस दौरान उन्होंने भारत को वर्ल्ड कप 2011 में खिताब और साल 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी का खिताब दिलाया था. इसके अलावा साल 2014 में उन्ही की कप्तानी में भारत टी20 वर्ल्ड कप का उपविजेता बना था. यहां उसे श्रीलंका से हार का सामना करना पड़ा था.

वहीं आईसीसी के दशक की टेस्ट टीम की कप्तानी पाने वाले विराट कोहली की बात करें तो उन्हें साल 2014 में भारतीय टेस्ट टीम की कप्तानी मिली थी. अपनी कप्तानी में वह भारत को टेस्ट रैंकिंग में नंबर 1 बनाया है. इसके अलावा उन्होंने ऑस्ट्रेलिया को उसकी सरजमीं पर हराया है. ऐसा करने वाले वह पहले एशियाई कप्तान हैं. इसके अलावा वह भारत के सबसे सफल टेस्ट कप्तान हैं.