दुबई: अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने पाकिस्तान को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट समुदाय से अलग-थलग करने की भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की मांग को खारिज कर दिया है. बीसीसीआई ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद आईसीसी को एक पत्र लिखा था, जिसमें उसने वैश्विक संस्था और उसके सदस्य देशों से आतंकियों को शरण देने वाले देशों से संबंध तोड़ने की अपील की थी.

क्रिकेट की इस शीर्ष संस्था आईसीसी ने लेकिन अपनी बैठक में बीसीसीआई के इस अनुरोध को स्वीकार करने से मना दिया. बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा, ‘आईसीसी ने स्पष्ट कर दिया है कि इस अनुरोध को लागू नहीं किया जा सकता है. आईसीसी ने विश्व कप में हमारी सुरक्षा को प्रमुखता दी है, लेकिन पाकिस्तान वाली मांग को स्वीकार करने से मना कर दिया है.

पुलवामा हमले के बाद सौरभ गांगुली और हरभजन सिंह जैसे पूर्व क्रिकेटरों ने इस बात की मांग की थी कि भारत को विश्व कप में 16 जून को पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले मैच का बहिष्कार करना चाहिए. उन्होंने साथ ही यह भी कहा था कि पाकिस्तान को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट समुदाय से अलग-थलग कर देना चाहिए. हालांकि बीसीसीआई ने अभी तक इस मामले पर कोई फैसला नहीं लिया है. बोर्ड का कहना है कि वह इस मामले में सरकार के आदेशों का पालन करेगी.