पूर्व भारतीय ऑलराउंडर मोहिंदर अमरनाथ (Mohinder Amarnath) का मानना है कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को अगले विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) चक्र के लिये तटस्थ क्यूरेटर रखने चाहिए. अमरनाथ ने कहा कि जिस तरह से अहमदाबाद में इंग्लैंड के खिलाफ दिन रात्रि टेस्ट मैच दो दिन में समाप्त हो गया था, उसे निष्पक्ष प्रतिस्पर्धा नहीं माना जाएगा.उन्होंने कहा, ‘‘आपको अच्छी पिच पर खेलना चाहिए. जब आप अच्छी पिचों पर खेलते हैं तो फिर यह मायने नहीं रखता कि आप कहां खेल रहे हो. तब यह एक उचित प्रतिस्पर्धा होगी.’’Also Read - भारत के पूर्व क्रिकेटर क्रिस श्रीकांत ने 1983 विश्व कप फाइनल में अपने प्रदर्शन को लेकर किया खुलासा

अमरनाथ ने शुक्रवार को पीटीआई से कहा, ‘‘आईसीसी ने जिस तरह से तटस्थ अंपायरों का पैनल बनाया है उसी तरह से तटस्थ क्यूरेटर का पैनल भी तैयार करना चाहिए. इस टीम को आईसीसी दिशानिर्देशों का पालन करना चाहिए. उसे यह सुनिश्चित करना चाहिए कि मैच पांचवें दिन तक जाए.’’ Also Read - अब BCCI को टक्कर देगा पाकिस्तान, ICC के सामने उठाएगा ये मुद्दा

यदि भारत और न्यूजीलैंड के बीच डब्ल्यूटीसी फाइनल ड्रा या टाई रह जाता तो दोनों टीमों को संयुक्त विजेता घोषित कर दिया जाता. अमरनाथ का मानना है कि यह एक अन्य पहलू है जिसे आईसीसी को अगले चक्र में बदलना चाहिए. Also Read - सीरीज जीतने वाले खिलाड़ियों को लाखों रुपए देती है BCCI लेकिन 1983 विश्व कप जीतने वाली टीम की इतनी थी फीस

उन्होंने कहा, ‘‘किसी भी खेल में फाइनल का मतलब होता कि उसमें संयुक्त विजेता नहीं हो सकता. फिर चाहे वह एक मैच हो या तीन मैच. उन्हें फाइनल पूरा करना होगा.’’