नई दिल्ली. आईसीसी के लिए दुनिया भर में बाइलेट्रल सीरीज के लिए कम होते दर्शक चिंता का कारण बन गये हैं और विश्व संस्था ने अपने सदस्यों को सलाह दी की कि उन्हें लंबे समय तक बने रहने के लिये अपने बजट में और अधिक समझदार होना होगा. सिंगापुर में खत्म हुई आईसीसी बोर्ड बैठक के दौरान यह मामला चर्चा में आया.

यह देखा गया है कि बाइलेट्रल सीरीज (टेस्ट, वनडे, टी20) के दौरान मेहमान टीम बड़े दल के साथ यात्रा करती है, जिससे समझौते पत्र के अनुसार उनका सारा खर्चा मेजबान संघ द्वारा उठाया जाता है. इस बढ़ते खर्चे से मेजबान संघों को वित्तीय परेशानियों का सामना करना पड़ता है.

आईसीसी ने कहा, ‘‘यह सहमति बनी है कि पूरी दुनिया में बढ़ते खर्चे को देखते हुए सदस्यों को दीर्घकालिक स्थायित्व की दृष्टि से अंतरराष्ट्रीय बाइलेट्रल क्रिकेट को और अधिक किफायती बनाने के प्रयास करने चाहिए.’’