इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच हुए विश्व कप फाइनल मैच में सुपर ओवर को लेकर हुए विवाद के बाद आईसीसी ने बाउंड्री के आधार पर विजेत तय करने के नियम को हटा दिया है. फाइनल मुकाबले में सुपर ओवर टाई होने के बाद अधिक बाउंड्री के आधार पर इंग्लैंड को विजेता घोषित किया गया था. आ Also Read - मैक्‍सवेल का खुलासा, WC के दौरान हाथ तुड़वाने की मांग रहा था दुआ, बताई वजह

ईसीसी ने कहा है कि वह अब ज्यादा बाउंड्री लगाने वाली टीम को विजेता घोषित करने वाले नियम को आईसीसी के टूर्नामेंट में इस्तेमाल नहीं किया जाएगा. Also Read - CWC 2019 में अंबाती रायडू को जगह नहीं देने पर खुलकर बोले एमएसके प्रसाद, 'मुझे उसके लिए दुख होता है'

आईसीसी की मुख्य कार्यकारी समिति ने सोमवार को फैसला किया कि वह सुपर ओवर के नियम को जारी रखेगी और ज्यादा बाउंड्री मारने वाले नियम को हटा देगी. Also Read - माइकल वॉन ने भारतीय वनडे टीम पर उठाए सवाल, 'इंजन रूम में नहीं बची पावर'

आईसीसी ने एक बयान में कहा, “क्रिकेट समिति और सीईसी (आईसीसी चीफ एक्जीक्यूटिव कमेटी) ने इस बात पर सहमति जाहिर की है कि सुपर ओवर उत्साहजनक और खेल का फैसला करने के लिए सही है, इसलिए यह वनडे और टी-20 विश्व कप में बना रहेगा.”

बयान में कहा गया है, “ग्रुप दौर में अगर सुपर ओवर टाई रहता है तो मैच टाई ही रहेगा. सेमीफाइनल और फाइनल में सुपर ओवर के नियमों में एक बदलाव किया गया है कि जब तक एक टीम जीत नहीं जाती तब तक सुपर ओवर जारी रहेगा.”

विश्व कप फाइनल में इंग्लैंड को न्यूजीलैंड के मुकाबले ज्यादा बाउंड्री लागने के कारण विश्व विजेता बना दिया गया था. इस नियम की काफी आलोचना हुई थी.