दुबई। तीन बार के चैंपियन भारत और ऑस्ट्रेलिया आईसीसी अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप के पहले मैच में एक-दूसरे से खेलेंगे. टूर्नामेंट अगले साल 13 जनवरी से तीन फरवरी तक खेला जाएगा. भारत और ऑस्ट्रेलिया को ग्रुप बी में जिम्बाब्वे, पूर्वी एशिया के क्वॉलिफायर पापुआ न्यू गिनी के साथ रखा गया है. Also Read - Sydney Racism: भारतीय क्रिकेटरों पर नस्लभेदी टिप्पणी पर भड़के जय शाह, बोले- भेदभावपूर्ण हरकतें बर्दाश्त नहीं की जाएंगी

सोलह टीमों के टूर्नामेंट के पहले मैच में 13 जनवरी को गत चैंपियन वेस्टइंडीज का सामना मेजबान न्यूजीलैंड से होगा. सोलह टीमें चार शहरों क्राइस्टचर्च, क्वींसटाउन, टाउरंगा और वांगारेइ में अपने-अपने मैच खेलेंगी. ग्रुप ए में वेस्टइंडीज, न्यूजीलैंड के साथ 2012 का चैंपियन दक्षिण अफ्रीका और अफ्रीकी क्वॉलिफायर कीनिया हैं. दस टेस्ट देशों को इसमें स्वत: प्रवेश मिला है जबकि पिछले सत्र में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाली एसोसिएट टीम नामीबिया भी इसमें नजर आएगी. इनके साथ ही पांच क्षेत्रीय क्वॉलिफायर इसमें खेलेंगे. Also Read - ICC ने श्रीलंकाई स्पिनर Akila Dananjaya पर लगे बैन को हटाया, ये था पूरा मामला

बांग्लादेश, कनाडा, इंग्लैंड और नामीबिया ग्रुप सी में है जबकि दो बार की चैंपियन पाकिस्तान, श्रीलंका, एशियाई क्वॉलीफायर अफगानिस्तान और यूरोपीय क्वॉलिफायर आयरलैंड भी इसमें नजर आएंगे. हर ग्रुप से शीर्ष दो टीमें सुपर लीग में पहुंचेंगी जबकि बाकी आठ टीमें प्लेट चैंपियनशिप खेलेंगी. क्वॉर्टर फाइनल, सेमीफाइनल और फाइनल समेत 20 मैचों का सीधा प्रसारण किया जाएगा. फाइनल तीन फरवरी को बे ओवल स्टेडियम पर होगा जबकि दोनों सेमीफाइनल क्राइस्टचर्च में 29 और 30 जनवरी को खेले जाएंगे. प्लेट चैम्पियनशिप का फाइनल 28 जनवरी को होगा. Also Read - ICC T20I World Cup 2021: अगर भारत सरकार ने नहीं दी छूट तो बीसीसीआई को भरना पड़ेगा 906 करोड़ का टैक्स

अफगानिस्तान के कप्तान नवीन उल हक ने कहा, ‘हमारा सपना वर्ल्ड कप जीतना है. हम भी दूसरी टीमों की तरह अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करके जीतने की कोशिश करेंगे.’ कनाडा के कप्तान अरबाश खान ने कहा, ‘हमारे पास प्रतिभा की कमी नहीं है और खिलाड़ी मानसिक रूप से दृढ़ हैं. हम अपना दिन होने पर किसी भी टीम को हरा सकते हैं. हमारे लिए यह बड़ा मौका होगा और हम सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे.’