बांग्लादेश ने बारिश से प्रभावित फाइनल में भारत को डकवर्थ लुइस नियम के तहत 3 विकेट से हराकर पहली बार आईसीसी अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप का खिताब जीत लिया है. भारत की ओर से रखे गए  178 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए बांग्लादेश ने जब 41 ओवर में 7 विकेट पर 163 रन बनाए थे तब बारिश के कारण खेल रोकना पड़ा. मैच दोबारा शुरू होने पर बांग्लादेश को 46 ओवर में 170 रन का संशोधित लक्ष्य  मिला जो उसने 42.1 ओवर में 23 गेेंद बाकी 7 विकेट पर हासिल कर लिया.Also Read - प्रचंड फॉर्म में Yashasvi Jaiswal, भारतीय नहीं, बल्कि विदेशी खिलाड़ी को दिया सफलता का श्रेय

U19 World Cup Final : यशस्वी के अर्धशतक के दम पर भारत ने बांग्लादेश को दिया 178 रन का लक्ष्य Also Read - Ranji Trophy फाइनल में शतक से चूके यशस्‍वी, बोले- मुझे दबाव में खेलना पसंद है

दक्षिण अफ्रीका के पोचेफस्ट्रूम के सेनवेस पार्क में रविवार को खेले गए फाइनल मुकाबले में बांग्लादेश की ओर से ओपनर परवेज हुसैन इमोन ने 47 जबकि कप्तान अकबर अली नाबाद 43 रन कर पारी खेल अपनी टीम को पहली बार वर्ल्ड चैंपियन बनाने में अहम भूमिका निभाई. Also Read - Ranji Trophy Final 2022- MP vs MUM: पहले दिन का खेल खत्म, जायसवाल की फिफ्टी- MUM: 248/5

परवेज ने अपनी पारी में 79 गेंदों पर 7 चौके लगाए जबकि अकबर ने अपनी पारी में 77 गेंदों पर 4 चौके और 1 छक्का जड़ा. दोनों बल्लेबाजों ने 41 रन की साझेदारी की. भारत की ओर से रवि बिश्नोई ने सर्वाधिक 4 जबकि सुशांत मिश्रा ने 2 विकेट चटकाए वहीं यशस्वी जायसवाल के खाते में 1 विकेट गया.

बांग्लादेश की शुरुआत अच्छी रही

लक्ष्य का पीछा करने उतरी बांग्लादेश को उसके सलामी बल्लेबाजों परेवज हुसैन और तंजिद हसन ने अर्धशतकीय साझेदारी कर टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई. खतरनाक दिख रही इस साझेदारी को स्पिनर रवि बिश्नोई ने तोड़ा. बिश्नोई ने तंजिद (17) को कार्तिक त्यागी के हाथों कैच कराया.

U19 World Cup Final : शतक से चूकने के बावजूद यशस्वी जायसवाल ने बना डाला ये बड़ा रिकॉर्ड

इसके बाद बांग्लादेश ने अपने 4 विकेट जल्दी-जल्दी गंवा दिए जिसमें महमूदुल हसन जॉय (8), तौहिद (शून्य), शहादत हुसैन (01), शमीम हुसैन (7) के विकेट शामिल थ अविषेक दास 5 रन बनाकर आउट हुए.

यशस्वी जायसवाल के 88 रन के दम पर भारत ने 177 रन बनाए

सलामी बल्लेबाज जायसवाल ने 121 गेंद में 8 चौकों और 1 छक्के की मदद से 88 रन की पारी खेलने के अलावा तिलक वर्मा (38) के साथ दूसरे विकेट के लिए 94 और ध्रुव जुरेल (22) के साथ चौथे विकेट के लिए 42 रन की साझेदारी की लेकिन इसके बावजूद  47.2 ओवर में ढेर हो गई. इन तीनों के अलावा कोई अन्य भारतीय बल्लेबाज दोहरे अंक में नहीं पहुंच पाया.

भारत ने आखिर के 7 विकेट सिर्फ 21 रन के अंदर गंवा दिए. भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही और कुल स्कोर में अभी 9 रन ही जुड़े थे कि ओपनर दिव्यांश सक्सेना पवेलियन लौट गए. दिव्यांश ने 17 गेंदों पर 2 रन बनाए.

आईसीसी अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप: भारत ने अपने पहले मैच में श्रीलंका को 90 रन से रौंदा

पहला विकेट गिरने के बाद जायसवाल ने तिलक वर्मा के साथ पारी को संभालने की कोशिश की. दोनों ने दूसरे विकेट पर 94 रन की साझेदारी कर स्कोर को 100 रन के पार ले गए. तिलक ने 65 गेंदों पर 3 चौकों की मदद से 38 रन की पारी खेली. विकेटकीपर ध्रुव जुरेल ने 22 रन का योगदान दिया. इसके बाद विकेट का पतझड़ शुरू हुआ और तीन बल्लेबाजों को छोड़कर अन्य बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू सके.

U-19 क्रिकेट का ‘महाकुंभ’ आज से शुरू, क्या 5वीं बार चैंपियन बनेगी टीम इंडिया?

कप्तान प्रियम गर्ग ने 7 जबकि अर्थव अनकोलेकर ने 3 रन बनाए. रवि बिश्नोई 2 रन बनाकर रनआउट हुए. सिद्धेश वीर और कार्तिक त्यागी खाता भी नहीं खोल सके वहीं सुशांत मिश्रा ने 3 रन की पारी खेली जबकि आकाश सिंह एक रन बनाकर नाबाद लौटे.

ICC U19 World Cup 2020: सेमीफाइनल में भारत और पाकिस्तान में हो सकती है भिड़ंत, ये है समीकरण

बांग्लादेश की ओर से अविषेक दास ने सर्वाधिक 3 विकेट चटकाए वहीं शोरिफुल इस्लाम और तंजिम हसन ने 2-2 विकेट चटकाए. रकिबुल हसन ने 1-1 एक विकेट अपने नाम किया.