क्वीन्सटाउन. कप्तान हैरी ब्रूक के शतक के दम पर इंग्लैंड ने बांग्लादेश को सात विकेट से हराकर आईसीसी अंडर 19 क्रिकेट विश्व कप के ग्रुप सी में शीर्ष पर रहने की ओर मजबूत कदम बढ़ाए. ब्रूक ने नाबाद 102 रन की पारी खेली. युआन वुड्स ने आलराउंड प्रदर्शन करते हुए 26 रन पर तीन विकेट चटकाने के अलावा नाबाद 48 रन बनाए और 1998 के चैंपियन इंग्लैंड को लगातार दूसरी जीत दिलाने में मदद मिली. Also Read - South Africa vs England, 1st T20I: बेयरस्टो की धमाकेदार पारी से इंग्लैंड ने दक्षिण अफ्रीका को 5 विकेट से हराया, सीरीज में बनाई बढ़त

Also Read - बांग्लादेश में हिंदुओं के घरों पर हमले को लेकर भारत सख्त, कड़ी निगरानी रख रहा भारतीय उच्चायोग

इंग्लैंड के फिलहाल बांग्लादेश के बराबर चार अंक हैं लेकिन शनिवार को कनाडा को हराकर वह ग्रुप में छह अंक के साथ शीर्ष स्थान हासिल कर सकता है. ऐसे में उसके अलावा बांग्लादेश सुपर लीग क्वार्टर फाइनल के लिए क्वालीफाई करेंगे. कनाडा की टीम हालांकि नामीबिया को क्राइस्टचर्च में हराकर दो अंक के साथ अब भी सुपर लीग क्वार्टर फाइनल की दौड़ में शामिल है लेकिन इसके लिए उसे इंग्लैंड को काफी बड़े अंतर से हराना होगा. Also Read - इस्लाम के खिलाफ बांग्लादेश में फैली अफवाह, हिंदुओं के 10 से अधिक घरों पर हुआ हमला

बांग्लादेश के कप्तान मोहम्मद सैफ हसन ने टास जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया जिसके बाद डिल्लन पेनिंगटन ने पिनाक घोष को पवेलियन भेजकर इंग्लैंड को पहली सफलता दिलाई. इथान बांबेर (19 रन पर तीन विकेट) ने इसके बाद मोहम्मद नेम, हसन और तावहिदुल आलम को पवेलियन भेजा जिससे बांग्लादेश का स्कोर नौवें ओवर में चार विकेट पर 27 रन हो गया.

अफगानिस्तान का दूसरा होम ग्राउंड बनेगा देहरादून

अफगानिस्तान का दूसरा होम ग्राउंड बनेगा देहरादून

आफिफ हुसैन (85 गेंद में 63 रन, आठ चौके) ने इसके बाद लगातार दूसरा अर्धशतक जड़ने के अलावा अमीनुल इस्लाम (31) के साथ पांचवें विकेट के लिए 96 रन जोड़े लेकिन इसके बावजूद टीम 49 .3 ओवर में 175 रन पर ढेर हो गई. इंग्लैंड की शुरुआत अच्छी नहीं रही लेकिन ब्रूक ने 84 गेंद में 13 चौकों और तीन छक्कों की मदद से नाबाद 102 रन बनाने के अलावा वुड्स के साथ चौथे विकेट के लिए 128 रन की अटूट साझेदारी करके 30 ओवर से पहले ही टीम को जीत दिला दी.

एक अन्य मैच में नामीबिया की टीम कनाडा के खिलाफ पहले बल्लेबाजी करते हुए 46 ओवर में 193 रन ही बना सकी. नामीबिया का कोई बल्लेबाज टिककर नहीं खेल पाया जिससे टीम को लगातार तीसरी हार का सामना करना पड़ा. कप्तान लोहेन लारेंस (38), एबेन वान विक (32) और एरिच वान मोलेनड्रोफ (30) अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में बदलने में नाकाम रहे.