भारतीय महिला क्रिकेट टीम को आईसीसी महिला टी20 विश्व कप फाइनल में ऑस्ट्रेलिया से हार मिली है. ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 85 रन से हराकर रिकॉर्ड 5वीं बार वर्ल्ड चैंपियन बनने की उपलब्धि हासिल की. फाइनल मुकाबले को देखने के लिए ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (एमसीजी) में रिकॉर्ड संख्या में दर्शक पहुंचे थे. Also Read - धीमी पारियों पर चेतेश्‍वर पुजारा की खरी-खरी, 'मैं नहीं बन सकता सहवाग या वार्नर, आपको...'

खिताब चूकने के बावजूद हरमनप्रीत को टीम पर है पूरा भरोसा, बोलीं- आज किस्मत हमारे साथ नहीं थी Also Read - प्‍लेइंग-11 का हिस्‍सा होने के बावजूद भज्‍जी नहीं देख पाए थे द्रविड़-लक्ष्‍मण की जादूई पारी, सचिन बने वजह

खिताबी मुकाबले को देखने के लिए एमसीजी में रिकॉर्ड 86,174 दर्शक मैदान में पहुंचे. किसी महिला मैच में दर्शकों की संख्या के लिहाज से यह नया विश्व रिकार्ड है. साथ ही यह ऑस्ट्रेलिया में किसी महिला खेल आयोजन में जुटी सबसे अधिक भीड़ है. Also Read - भारत-इंग्‍लैंड SF रद्द होने के बाद ICC ने विश्‍व कप 2021 के शेड्यूल में किया बड़ा बदलाव

आईसीसी विश्व कप का यह सातवां संस्करण था. साल 2009 में इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच सिडनी में हुए फाइनल मुकाबले में 12,717 दर्शक मैदान में पहुंचे थे. भारतीय टीम पहली बार फाइनल में पहुंची थी जबकि ऑस्ट्रेलिया की टीम ने रिकॉर्ड छठी बार खिताबी मुकाबले में प्रवेश की थी.

ICC Women’s T20 World Cup: लीग की हार का बदला फाइनल जीतकर लिया

फाइनल में ऑस्ट्रेलिया की ओर से रखे गए 185 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम 5 गेंद बाकी रहते 99 रन पर ढेर हो गई. भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही और उसने नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए.