चार बार की चैंपियन ऑस्ट्रेलिया ने दक्षिण अफ्रीका को हराकर आईसीसी महिला टी20 वर्ल्ड कप के फाइनल में प्रवेश कर लिया है जहां उसका सामना 8 मार्च को मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर भारत से होगा. मौजूदा चैंपियन ऑस्ट्रेलिया ने गुरुवार को दूसरे सेमीफाइनल मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका को डकवर्थ लुइस नियम के तहत 5 रन से पराजित कर खिताबी मुकाबले में जगह बनाई.ऑस्ट्रेलियाई टीम छठी बार फाइनल में पहुंची है. Also Read - New Zealand Women vs Australia Women, 2nd ODI: ऑस्ट्रेलिया ने जीता लगातार 23वां वनडे, सीरीज पर जमाया कब्जा

कोरोना वायरस के समय क्रिकेट : ‘अगर ओलंपिक हो सकता है तो फिर IPL क्यों नहींAlso Read - ICC Women's ODI Rankings: Shafali Verma नंबर-1 पर बरकरार, Smriti Mandhana ने बनाई Top-5 में जगह

सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर खेले गए मुकाबले में मेजबान ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए कप्तान मेग लेनिंग के नाबाद 49 और ओपनर बेथ मूनी के 28 रन की बदौलत निर्धारित 20 ओवर में 5 विकेट पर 134 रन बनाए थे. दक्षिण अफ्रीका की ओर से नादिने डी क्लेर्क ने 19 रन देकर 3 विकेट चटकाए. Also Read - विराट कोहली, हाशिम आमला से आगे निकले बाबर आजम; सबसे तेज 13 वनडे शतक जड़ने वाले पुरुष क्रिकेटर बने

INDw vs ENGw: बारिश की भेंट चढ़ा SF, भारत ने पहली बार बनाई टी20 वर्ल्‍ड कप के फाइनल में जगह

इसके बाद बारिश शुरू हो गई. बारिश थमने के बाद दक्षिण अफ्रीका को 13 ओवर में 98 रन का संशोधित लक्ष्य मिला था लेकिन प्रोटियाज महिलाएं 5 विकेट पर 92 रन ही बना सकीं. दक्षिण अफ्रीका की ओर से लॉरा वोलवार्ट ने 27 गेंदों पर नाबाद 41 रन बनाए जबकि सुन लुस ने 21 रन का योगदान दिया. ऑस्ट्रेलिया की ओर से मेगन शट ने सर्वाधिक 2 विकेट निकाले.

भारत और इंग्लैंड का सेमीफाइनल मुकाबला बारिश की भेंट चढ़ा

इससे पहले भारत और इंग्लैंड के बीच खेला जाने वाला पहला सेमीफाइनल मुकाबला बारिश की भेंट चढ़ गया. इस मुकाबले में टॉस भी नहीं हो सका. चूंकि भारतीय टीम ने अपने चारों लीग मैच जीतकर टॉप पर रहते हुए सेमीफाइनल में प्रवेश किया था इसलिए उसे आसानी से फाइनल का टिकट मिल गया. भारतीय टीम पहली बार टी20 विश्व कप के फाइनल में पहुंची है.

लीग मैच में ऑस्ट्रेलिया को हरा चुका है भारत

भारतीय टीम ने अपने पहले लीग मुकाबले में मेजबान ऑस्ट्रेलिया को 17 रन से पराजित किया था. ऐसे में हरमनप्रीत की कप्तानी वाली टीम इंडिया बढ़े हुए मनोबल के साथ फाइनल में उतरेगी.