लंदनः वेस्टइंडीज ने गुरुवार को बेशक अफगानिस्तान को मात दे आईसीसी विश्व कप-2019 में अपने सफर का अंत जीत से किया, लेकिन यह उसकी इस विश्व कप में नौ मैचों में सिर्फ दूसरी जीत थी. उसके स्टार बल्लेबाज क्रिस गेल का यह आखिरी विश्व कप भी था. गेल निराश हैं कि उनका आखिरी विश्व कप अच्छा नहीं रहा. गेल ने पहले ही कह दिया था कि इस विश्व कप के बाद भारत के विंडीज दौरे के बाद वह क्रिकेट को अलविदा कह देंगे. गेल को हालांकि क्रिकेट के महाकुंभ से विजयी विदाई मिली लेकिन यह बल्लेबाजी टीम के प्रदर्शन से निराश भी है. Also Read - West Indies vs South Africa, 1st Test: Quinton de Kock ने जड़े नाबाद 141 रन, पारी की जीत से 6 विकेट दूर South Africa

गेल ने मैच के बाद ब्रॉडकास्टर चैनल से बात करते हुए कहा, “मुझे अभी कुछ और मैच खेलने हैं, इसलिए देखते हैं कि क्या होता है. मेरे नजरिए से विश्व कप अच्छा नहीं रहा, लेकिन इसमें हम कुछ नहीं कर सकते. निश्चित ही यह मेरा आखिरी विश्व कप था. मैं ट्रॉफी उठाना पसंद करता, लेकिन ऐसा नहीं हुआ.” Also Read - West Indies का ऐलान, एक घुटने के बल बैठकर करता रहेगा 'नस्लवादी विरोधी आंदोलन' को सपोर्ट

गेल ने कहा, “जिंदगी चलती रहती है. मैं इस पल क्या महसूस कर रहा हूं वो शब्दों में बयां नहीं हो सकता.” टीम के भविष्य को लेकर गेल ने कहा, “शिमरन हेटमायेर, शई होप, निकोलस पूरन के रहते टीम का भविष्य उज्जवल लग रहा है. उनके पास जेसन होल्डर जैसा युवा कप्तान भी है. मेरे लिए अगला लक्ष्य भारत के खिलाफ कुछ वनडे मैच खेलना, सीपीएल जैसे टूर्नामेंट्स में कुछ टी-20 मैच और फिर कनाडा में टी-20 मैच खेलना है.” गेल ने अपने आखिरी विश्व कप में नौ मैचों की आठ पारियों में कुल 242 रन बनाए. उनका सर्वोच्च स्कोर 87 रन रहा. गेल ने इस विश्व कप में दो अर्धशतक जमाए जबकि एक भी शतक उनके हिस्से नहीं आया. Also Read - '80 के दशक की वेस्टइंडीज या 90 से दशक की ऑस्ट्रेलिया की तरह विपक्षी पर हावी होने की काबिलियत नहीं रखती टीम इंडिया'