बर्मिंघम: सलामी बल्लेबाज जानी बेयरस्टा के शतक की बदौलत इंग्लैंड ने भारत के खिलाफ विश्व कप के लीग मैच में रविवार को यहां सात विकेट पर 337 रन बनाए. बेयरस्टा ने 109 गेंद में छह छक्कों और 10 चौकों की मदद से 111 रन की पारी खेली. उन्होंने जेसन राय (66) के साथ पहले विकेट के लिए 160 रन जोड़कर इंग्लैंड को तूफानी शुरुआत दिलाई. बेन स्टोक्स (79) ने तेजतर्रार अर्धशतक जड़ा जबकि जो रूट (44) ने भी उम्दा पारी खेली. भारत की ओर से मोहम्मद शमी ने करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी करते हुए 69 रन देकर पांच विकेट चटकाए. जसप्रीत बुमराह ने किफायती गेंदबाजी की और 44 रन देकर एक विकेट चटकाया जबकि बाकी गेंदबाज महंगे साबित हुए.

 

टास जीतकर बल्लेबाजी करने उतरे इंग्लैंड को बेयरस्टा और राय की जोड़ी ने शानदार शुरुआत दिलाई. दोनों ने सतर्कता के साथ बल्लेबाजी करते हुए 10 ओवर में टीम का स्कोर 47 रन तक पहुंचाया. राय हालांकि 11वें ओवर में हार्दिक पंड्या की गेंद पर भाग्यशाली रहे जब उनकी लेग साइड से बाहर जाती गेंद पर बल्लेबाज ने प्रहार करने की कोशिश और अंपायर ने इसे वाइड करार दे दिया. भारत ने विचार विमर्श के बाद डीआरएस नहीं लेने का फैसला किया लेकिन रीप्ले में दिखा कि विराट कोहली की टीम अगर डीआरएस लेती को राय को पवेलियन लौटना होता क्योंकि गेंद उनके ग्लव्स से टकराकर धोनी के हाथों में पहुंची थी. राय इस समय 21 रन बनाकर खेल रहे थे और उन्होंने अगली दो गेंद पर छक्का और चौका मारा.

बेयरस्टा ने युजवेंद्र चहल पर दो छक्कों के साथ 16वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया और इस दौरान 56 गेंद में अर्धशतक पूरा किया. बेयरस्टा के पहले छक्का को लपकने की कोशिश में लोकेश राहुल बाउंड्री पर चोटिल भी हो गए और उनकी जगह क्षेत्ररक्षण के लिए रविंद्र जडेजा को मैदान पर उतरना पड़ा. राय ने कुलदीप यादव की गेंद पर दो रन के साथ 41 गेंद में अर्धशतक पूरा किया और फिर अगली गेंद पर छक्का जड़ा. राय हालांकि कुलदीप की गेंद पर बड़ा शाट खेलने की कोशिश में लांग आफ पर जडेजा के शानदार कैच का शिकार बने. उन्होंने 57 गेंद का सामना करते हुए सात चौके और दो छक्के मारे.

बेयरस्टा और रूट ने इसके बाद पारी को आगे बढ़ाया. बेयरस्टा ने स्वच्छंद बल्लेबाजी जारी रखी और पंड्या की गेंद पर एक रन के साथ 90 गेंद में विश्व कप का अपना पहला शतक पूरा किया. इंग्लैंड के 200 रन 30वें ओवर में पूरे हुए. कप्तान कोहली ने शमी को इसके बाद गेंदबाजी में वापसी कराई और उनके नए स्पैल की चौथी गेंद को ही बेयरस्टा डीप प्वाइंट पर ऋषभ पंत के हाथों में खेल गए. शमी के अगले ओवर में इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन (01) भी शार्ट गेंद को हुक करने की कोशिश में फाइन लेग पर जाधव को कैच दे बैठे जिससे इंग्लैंड का स्कोर तीन विकेट पर 207 रन हो गया.

बेन स्टोक्स ने इसके बाद मोर्चा संभाला. उन्होंने चहल पर दो छक्के और एक चौका मारा. चहल ने 10 ओवर में 88 रन खर्च किए जो एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में उनका सबसे खराब प्रदर्शन है. शमी ने अपने तीसरे स्पैल के लिए वापसी करते हुए पहली ही गेंद पर रूट को फाइन लेग पर पंड्या के हाथों कैच कराया. रूट ने 54 गेंद का सामना करते हुए दो चौके मारे. शमी ने जोस बटलर (20) और फिर क्रिस वोक्स (07) को पवेलियन भेजकर करियर में पहली बार पांच विकेट हासिल किए. स्टोक्स ने शमी की गेंद पर दो रन के साथ 38 गेंद में लगातार तीसरा अर्धशतक पूरा किया. स्टोक्स ने शमी की लगातार गेंदों पर दो चौके और एक छक्का मारा लेकिन पारी के अंतिम ओवर में बुमराह की गेंद पर जडेजा को कैच दे बैठे.