लंदन: चोटिल हरफनमौला खिलाड़ी विजय शंकर के स्थान पर विश्व कप-2019 के लिए भारतीय क्रिकेट टीम में शामिल किए गए मयंक अग्रवाल बुधवार को लीड्स में टीम से जुड़ेंगे. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने मंगलवार को एक बयान जारी कर यह जानकारी दी. शंकर पैर में चोट के कारण आईसीसी विश्व कप-2019 से बाहर हो गए हैं. उन्हें नेट्स में जसप्रीत बुमराह की गेंद लगी थी. बीसीसीआई ने शंकर के स्थान पर मंयक को टीम में शामिल करने के लिए आईसीसी से अपील की थी जिसे मंजूर कर लिया गया था. वहीं, पूर्व भारतीय बल्लेबाज मोहम्मद कैफ ने इस फैसले पर आपत्ति भी जताई है.

मयंक ने पिछले साल दिसंबर में आस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया था. उन्होंने अभी तक एक भी अंतर्राष्ट्रीय वनडे मैच नहीं खेला है. 28 वर्षीय मयंक ने 2012 में लिस्ट-ए क्रिकेट में पदार्पण किया था. तब से लेकर अब तक उन्होंने 75 मैच खेले हैं, जिसमें 3605 रन बनाए हैं. भारत को विश्व कप में शनिवार को लीड्स में श्रीलंका के साथ अपना अंतिम लीग मैच खेलना है.

कोहली और रोहित पर निर्भर है टीम इंडिया, निचले क्रम की बैटिंग में करना होगा सुधार: क्लाइव लायड

कैफ ने जताई आपत्ति
वहीं, पूर्व भारतीय बल्लेबाज और भारत के सबसे शानदार फील्डर्स में एक रहे मोहम्मद कैफ ने मयंक अग्रवाल को भारत की विश्व कप टीम में शामिल किए जाने पर आपत्ति जताई है. कैफ ने कहा कि उनकी एकमात्र आपत्ति इस चयन पर यह है कि कर्नाटक के इस बल्लेबाज ने हाल में अधिक मैच नहीं खेले हैं. मयंक को चोटिल हरफनमौला खिलाड़ी विजय शंकर के स्थान पर इंग्लैंड में जारी विश्व कप-2019 के लिए भारतीय क्रिकेट टीम में शामिल किया गया है. मयंक ने पिछले साल दिसंबर में आस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया था. उन्होंने हालांकि अबतक एक भी वनडे मैच नहीं खेला है.

कैफ ने कहा, “समस्या केवल यह है कि क्या आप नियमित रूप से क्रिकेट खेल रहे हैं या फिर आप क्या टच में हैं.” कैफ ने कहा कि ऐसी ही चिंता उन्हें ऋषभ पंत के मामले में भी की थी, जब उन्हें विश्व कप में चुना गया था. कैफ ने कहा, “आपको यह देखना होगा कि नियमित कितने मैच खेले हैं और क्या वे इसके टच में हैं. यही बात पंत के साथ भी है. वे यहां की परिस्थितियों के साथ ज्यादा टच में नहीं रहे हैं.”

कैफ ने भारतीय टीम को इंग्लैंड के हाथों मिली हार पर भी अपनी प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा, “वे अब तक केवल एक मैच हारे हैं. कोई भी टीम एक मैच हार सकती है. भारत का दिन अच्छा नहीं था और इंग्लैंड ने बेहतरीन प्रदर्शन किया. वे खिताब के दावेदार है.” भारत के सबसे बेहतरीन फील्डरों में शामिल पूर्व बल्लेबाज ने साथ ही कहा, “भारत के पास एक संतुलित टीम है और खिलाड़ी भी फॉर्म में हैं. यहां चोट जरूर चिंता वाली बात है, लेकिन मेरा मानना है कि हमारे पास अच्छा बैकअप है.”