नई दिल्ली. आईसीसी विश्व कप के लिए भारतीय टीम का चयन 15 अप्रैल को मुंबई में किया जाएगा. यह फैसला सोमवार को यहां प्रशासकों की समिति (CoA) ने किया. इसके अलावा CoA ने आईपीएल फाइनल की मेजबानी चेन्नई के पास बरकरार रखने के लिए आवश्यक मंजूरी हासिल करने को टीएनसीए को एक सप्ताह का समय दिया. CoA के अलावा बीसीसीआई के तीन पदाधिकारियों की राजधानी में बैठक में हुई, जिसमें आईपीएल और क्रिकेट संचालन से जुड़े कई मसलों पर चर्चा की गई.

विश्व कप के लिए टीम घोषित करने की अंतिम तिथि 23 अप्रैल है. लेकिन बीसीसीआई ने 30 मई से ब्रिटेन में शुरू होने वाली इस प्रतियोगिता के लिए तय तिथि से आठ दिन पहले टीम घोषित करने का फैसला किया. इसका फैसला पूर्व में कर दिया गया था लेकिन इसकी घोषणा सोमवार को की गई. भारतीय विश्व कप टीम की तैयारियां सही दिशा में आगे बढ़ रही हैं और केवल एक दो स्थानों पर विचार किया जाना है. बैठक में आईपीएल फाइनल को लेकर भी फैसला किया गया जो मजबूत चेन्नई सुपरकिंग्स को नागवार गुजर सकता है. बीसीसीआई ने 12 मई को होने वाले फाइनल के लिए हैदराबाद को स्टैंडबाई स्थल के रूप में रखा है.

दिल्ली ने भी निकाला RCB के नाम का ‘वारंट’, लगातार छठी हार का लगा ‘करंट’

दिल्ली ने भी निकाला RCB के नाम का ‘वारंट’, लगातार छठी हार का लगा ‘करंट’

चेन्नई स्थित चेपक स्टेडियम में तीन खाली स्टैंडों- आई, जे और के- का मसला 2012 से उठ रहा है. तमिलनाडु क्रिकेट संघ (टीएनसीए) जब भी मैचों का आयोजन (आईपीएल और अंतरराष्ट्रीय) करता है तो ये स्टैंड खाली रहते हैं क्योंकि स्थानीय नगर निगम से इनको लेकर अनापत्ति प्रमाणपत्र नहीं मिला है. इस बीच केवल दिसंबर 2012 में खेला गया वनडे अपवाद था क्योंकि तब भारत का सामना पाकिस्तान से था. कई लोगों का मानना है कि मामला तब राज्य सरकार और टीएनसीए के बीच अधिक राजनीतिक था. बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने गोपनीयता की शर्त पर कहा, ‘‘इन तीन स्टैंड की क्षमता 12 हजार दर्शकों की है और यह वास्तव में अजीब लगता है जब टीवी पर इन खाली स्टैंड को दिखाया जाता है. हम नहीं चाहते कि चेन्नई को प्लेआफ के लिए क्वालीफाई करने पर घरेलू मैदान पर खेलने का मौका नहीं मिले. लेकिन हमने उन्हें मंजूरी हासिल करने के लिए एक सप्ताह का समय दिया है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘अगर वे प्रमाणपत्र हासिल करने में नाकाम रहते हैं तो फाइनल हैदराबाद में तथा प्लेऑफ और एलिमिनेटर बेंगलुरू में आयोजित किए जाएंगे. सनराइजर्स 2018 का उपविजेता है और इसलिए वे फाइनल की मेजबानी करेंगे.’’ इस बीच सीओए ने मिनी महिला आईपीएल के प्रारूप पर भी फैसला किया जिसमें तीन टीमें भाग लेंगी. पिछले साल की तरह एकमात्र प्रदर्शनी मैच के बजाय इस बार इसमें चार मैच खेले जाएंगे. सूत्रों ने कहा, ‘‘मैचों का आयोजन रात आठ बजे से होगा. एक मैच विशाखापट्टनम में जबकि अन्य मैच संभवत: बेंगलुरू में खेले जाएंगे.’’

KKR ने राजस्थान को हराया, इस मामले में दर्ज की सीजन की अब तक की सबसे बड़ी जीत

KKR ने राजस्थान को हराया, इस मामले में दर्ज की सीजन की अब तक की सबसे बड़ी जीत

यह भी पता चला है कि सीओए ने खिलाड़ियों के संघ की संचालन समिति को संस्था के गठन की प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए कहा है. बीसीसीआई ने इसके अलावा घरेलू टूर्नामेंटों और भारत में अंतरराष्ट्रीय मैचों के ‘टाइटिल प्रायोजक’ के लिए नई निविदा जारी करने का भी फैसला किया. अधिकारी ने कहा, ‘‘यह नयी प्रक्रिया होगी लेकिन पेटीएम भी अपनी निविदा सौंप सकता है.’’ इस बीच बीसीसीआई को पिछले दस साल में लेखों के निपटारे के बाद क्रिकेट आस्ट्रेलिया से दो करोड़ नौ लाख रुपए मिलेंगे. बोर्ड के एक अधिकारी ने बताया, ‘‘भारत और आस्ट्रेलिया के बीच पिछली द्विपक्षीय श्रृंखलाओं को लेकर खातों के आपसी सहमति से निपटारे पर बात की गई. हमें दो करोड़ नौ लाख रुपए मिलेंगे. बातचीत अभी चल रही है. पदाधिकारियों की प्रशासकों की समिति से 20 अप्रैल को फिर बैठक होगी.’’