लंदन: ट्रेंट बोल्ट की हैट्रिक सहित चार विकेट तथा अन्य गेंदबाजों के उपयोगी योगदान से न्यूजीलैंड ने आस्ट्रेलिया को विश्व कप मैच में आज यहां नौ विकेट पर 243 रन ही बनाने दिये. आस्ट्रेलिया के चोटी के पांच विकेट 92 रन पर निकल गये थे. इसके बाद ख्वाजा (129 गेंदों पर 88 रन) और कैरी (72 गेंदों पर 71 रन) ने छठे विकेट के लिये 107 रन जोड़े जिससे टीम सम्मानजनक स्कोर तक पहुंच पायी. बोल्ट (51 रन देकर चार) ने पारी के आखिरी ओवर में हैट्रिक बनायी. वह विश्व कप में हैट्रिक लेने वाले न्यूजीलैंड के पहले गेंदबाज बन गये हैं. इस विश्व कप में यह दूसरी हैट्रिक है. उनसे पहले भारत के मोहम्मद शमी ने हैट्रिक बनायी थी. उनके अलावा जेम्स नीशाम (28 रन देकर दो) और लॉकी फर्गुसन (49 रन देकर दो) ने अच्छी गेंदबाजी की. Also Read - WTC Final, IND vs NZ: 'रिजर्व डे' में न्यूजीलैंड को समेटने के लिए हमें मजबूत प्लान की जरूरत: Mohammed Shami

आस्ट्रेलिया पहले ही सेमीफाइनल में जगह बना चुका है जबकि न्यूजीलैंड का उससे एक अंक कम है और वह यह मैच जीत कर अंतिम चार में जगह सुनिश्चित कर लेगा. न्यूजीलैंड ने 12वें ओवर तक कप्तान आरोन फिंच (आठ), डेविड वार्नर (12) और स्टीवन स्मिथ (पांच) के कीमती विकेट लेकर आस्ट्रेलिया के पहले बल्लेबाजी के फैसले को गलत साबित कर दिया था. फिंच और वार्नर ने अब तक टीम को अच्छी शुरुआत दी थी लेकिन न्यूजीलैंड के खिलाफ ये दोनों बल्लेबाज नहीं चले. तेज गेंदबाज बोल्ट ने लार्ड्स पर मेडन ओवर से आगाज किया जबकि पहली बार नयी गेंद संभालने वाले कोलिन डि ग्रैंडहोम ने तीसरी गेंद पर ही फिंच को आउट कर दिया था लेकिन मार्टिन गुप्टिल ने कैच छोड़ दिया. बोल्ट ने हालांकि पांचवें ओवर में आस्ट्रेलियाई कप्तान को पगबाधा आउट कर दिया.

 

ख्वाजा भी दो गेंद बाद पवेलियन में होते लेकिन गुप्टिल दूसरी स्लिप में डाइव लगाकर कैच नहीं कर पाये. लॉकी फर्गुसन ने हालांकि अपनी पहली गेंद पर ही वार्नर को आउट कर दिया. बायें हाथ के इस बल्लेबाज ने तेजी से उठती गेंद पर विकेटकीपर टाम लैथम को कैच दिया. स्मिथ ने भी फर्गुसन की गेंद पर ही गलत टाइमिंग से हुक करके विकेट गंवाया. गुप्टिल ने इस बार शार्ट फाइन लेग पर डाइव लगाकर बेहतरीन कैच लिया. इससे स्कोर तीन विकेट पर 46 रन हो गया. ख्वाजा को 35 रन के निजी योग पर लैथम ने भी जीवनदान दिया जबकि इस बीच दूसरे छोर से मार्कस स्टोइनिस (21) और ग्लेन मैक्सवेल (शून्य) नहीं टिक पाये. इन दोनों को नीशाम ने लगातार ओवरों में आउट किया. मैक्सवेल का नीशाम ने एक हाथ से खूबसूरत कैच लिया.

कैरी ने बेहतरीन बल्लेबाजी और कुछ दर्शनीय शॉट लगाये. उन्होंने इस बीच वनडे में तीसरा अर्धशतक पूरा किया और फिर अपने करियर का सर्वोच्च स्कोर बनाया. ख्वाजा ने इस बीच स्ट्राइक रोटेट करने पर ध्यान दिया जिससे ये दोनों आस्ट्रेलिया को संकट से बाहर निकालने में सफल रहे. केन विलियमसन ने हालांकि अपनी कामचलाऊ आफ स्पिन से बल्लेबाजों को बांधे रखा और आखिर में उन्हें कैरी का कीमती विकेट भी मिल गया. कैरी कवर के ऊपर से शाट मारना चाहते थे लेकिन गुप्टिल को कैच थमाकर चले गये. कैरी ने अपनी पारी में 11 चौके लगाये. बोल्ट ने आखिरी ओवर की तीसरी गेंद पर ख्वाजा को बोल्ड किया. अगली गेंद पर मिशेल स्टार्क की गिल्लियां बिखेरी और फिर जेसन बेहरनडोर्फ को पगबाधा आउट किया.