मैनचेस्टर: भारतीय कप्तान विराट कोहली ने वेस्टइंडीज के खिलाफ बड़ी जीत दर्ज करने के बाद कहा कि पिछले दो मैचों में भले ही चीजें टीम के हिसाब से नहीं रही हों लेकिन इसके बावजूद इनमें जीत हासिल करना प्रभावशाली है. कोहली ने 72 रन की शानदार शतकीय पारी खेली, जिससे उन्हें मैन आफ द मैच चुना गया. कोहली ने लगातार चौथी बार 50 या इससे अधिक रन बनाये और दौरान अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे कम मैचों में 20,000 रन पूरे करने का रिकार्ड बनाया. वह हालांकि फिर से अर्धशतक को शतक में बदलने में नाकाम रहे. उन्होंने अपनी पारी में आठ चौके लगाये. Also Read - India vs Australia 3rd ODI Match Preview: क्लीन स्वीप से बचना चाहेगी टीम इंडिया, कैनबरा में होगा मैच

  Also Read - India vs Austalia, 3rd ODI, Predicted XI: दोनों टीमों का कैसा रहेगा प्‍लेइंग-XI, जानें मौसम का हाल और Pitch Report

कोहली ने मैच के बाद कहा कि मैं शिकायत नहीं कर सकता. हम कल नंबर एक टीम बने और ईमानदारी से कहूं तो हम पिछले कुछ समय से ऐसा खेल रहे हैं. भारतीय टीम ने अफगानिस्तान के खिलाफ पिछले मैच में भी धीमी बल्लेबाजी की और आज भी वेस्टइंडीज के खिलाफ ऐसा ही रहा. इस पर कोहली ने कहा कि बल्ले से देखें तो पिछले दो मैचों में चीजें हमारे मुताबिक नहीं रही, लेकिन हमने फिर भी जीत हासिल की और यह मेरे लिये प्रभावित करने वाला है. हम अफगानिस्तान के खिलाफ भी आज की तरह की स्थिति में थे. लेकिन हम पिछले मैच में ठीक से आकलन नहीं कर पाये.

ICC World Cup 2019: वेस्टइंडीज पर भारत की बड़ी जीत, सेमीफाइनल के करीब पहुंची टीम इंडिया

उन्होंने हार्दिक पंड्या और महेंद्र सिंह धोनी की अंत में खेली गयी पारियों की भी प्रशंसा की. कोहली ने कहा कि मुझे लगता है कि हार्दिक और एमएस ने अंत में काफी अच्छा खेल दिखाया. इस पिच पर 270 रन का स्कोर हमेशा ही चुनौतीपूर्ण होता. अपनी पारी के बारे में कोहली ने कहा कि तेजी से परिस्थितियों का आकलन करके बल्लेबाजी करना मेरा मजबूत पक्ष है. मेरे 70 प्रतिशत रन सिंगल से बने और इस तरह रन बनाना सर्वश्रेष्ठ है.