ICC World Test Championship 2021-23 Rules: भारत और इंग्‍लैंड (India vs England) के बीच अगस्‍त में शुरू हो रही पांच मैचों की टेस्‍ट सीरीज से आईसीसी वर्ल्‍ड टेस्‍ट चैंपियनशिप 2021-23 की शुरुआत भी होने जा रही है. आईसीसी ने टेस्‍ट चैंपियनशिप के दूसरे सीजन के लिए नियमों में बदलाव किया है.Also Read - रोहित शर्मा को टी20 की कप्तानी से हटाया जा सकता है: Virender Sehwag

आईसीसी अब प्रत्‍येक सीरीज के लिए अंक निर्धारित करने की जगह हर मैच में 12 अंक प्रदान करेगा. बताया गया कि मैच ड्रॉ होने की स्थिति में दोनों टीमों को चार-चार अंक दिए जाएंगे. अगर मैच टाई पर खत्‍म हुआ तभी दोनों टीमें छह-छह अंक प्राप्‍त करने की हकदार होंगी. Also Read - भारत बना रन चेज का बादशाह, T20I में इस देश को पछाड़ नंबर-1 पर बनाई जगह

आईसीसी वर्ल्‍ड टेस्‍ट चैंपियनशिप 2019-21 (ICC World Test Championship 2021-23 Rules) कोविड-19 से बुरी तरह से प्रभावि रही थी. जिसके देखते हुए आईसीसी को अंतत: प्रतिशत के आधार पर अंकों का निर्धारतण करना पड़ा था. ऑस्‍ट्रेलिया की टीम बेहद मामूली अंतर से फाइनल में अपनी जगह नहीं बना पाई थी. Also Read - कोविड से उबरकर इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें टेस्ट मैच में खेल सकते हैं भारतीय कप्तान रोहित शर्मा

आईसीसी के अंतरिम सीईओ ज्यौफ अलार्डिस ने इसी महीने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि अंक प्रणाली में बदलाव किया जाएगा.
आईसीसी बोर्ड के सदस्य ने पीटीआई को बताया, ‘‘पहले प्रत्येक श्रृंखला के समान 120 अंक होते थे, फिर चाहे यह दो टेस्ट की श्रृंखला हो या पांच टेस्ट की. अगले चक्र में प्रत्येक मैच के समान अंक होंगे- अधिकतम 12 प्रति मैच.’’

उन्होंने कहा, ‘‘टीमों ने मैच खेलकर जो अंक हासिल किए हैं उनके प्रतिशत अंकों के आधार पर टीमों की रैंकिंग तय होगी.’’ आगामी हफ्तों में आईसीसी के मुख्य कार्यकारियों की समिति बैठक में अंक प्रणाली में बदलाव को स्वीकृति दी जानी है.

बोर्ड के सदस्य ने कहा, ‘‘लक्ष्य यह है कि अंक प्रणाली को सरल बनाने का प्रयास किया जाए और किसी भी समस्य तालिका में टीमों की सार्थक तुलना की जा सके, फिर भले ही उन्होंने अलग संख्या में मैच और श्रृंखला क्यों नहीं खेली हो. ’’

जून 2023 में खत्म होने वाले दूसरे चक्र में भारत-इंग्लैंड श्रृंखला के अलावा इस साल होने वाली एशेज श्रृंखला ही पांच मैचों की एकमात्र श्रृंखला होगी. अगले साल ऑस्ट्रेलिया का भारत दौरा आगामी चक्र में चार टेस्ट की एकमात्र श्रृंखला होगी.

सभी नौ टीमों में से प्रत्येक टीम कुल छह श्रृंखलाएं खेलेंगी जिसमें से तीन स्वदेश और तीन विरोधी के मैदान पर होंगी जैसा कि पिछले सत्र में भी हुआ. डब्ल्यूटीसी के पहले चक्र के फाइनल में न्यूजीलैंड ने भारत को हराकर खिताब जीता.

ईएसपीएनक्रिकइंफो के अनुसार दूसरे चक्र में इंग्लैंड की टीम सर्वाधिक 21 टेस्ट खेलेगी जबकि उसके बाद भारत (19), ऑस्ट्रेलिया (18) और दक्षिण अफ्रीका (15) का नंबर आता है. न्यूजीलैंड, वेस्टइंडीज और श्रीलंका की टीमें 13 जबकि पाकिस्तान 14 टेस्ट खेलेगा.