इस साल इंग्लैंड के ऐतिहासिक लॉर्ड्स मैदान पर वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (ICC World Test Championship) का फाइनल खेला जाना तय है. पहली बार खेले जाने वाले इस मैच की तारीख पहले 10 से 14 जून थी, जिसे अब आगे बढ़ाकर 18 से 22 जून कर दिया गया है. इस बहुप्रतीक्षित मैच के लिए 23 जून का दिन रिजर्व रहेगा.Also Read - आईसीसी ने जारी की ताजा टेस्ट रैंकिंग, जानिए किस पायदान पर Virat Kohli

समाचार एजेंसी एएनआई की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस टेस्ट मैच को आईपीएल 2021 के फाइनल की तारीख को ध्यान में रखकर आगे बढ़ाने का फैसला लिया गया है. हालांकि आईपीएल 2021 के शेड्यूल का ऐलान होना अभी बाकी है. दुनिया भर में इन दिनों कोविड- 19 (Covid- 19) के चलते किसी दूसरे देश में जाने पर खेल गतिविधियों में भाग लेने से पहले क्वॉरंटीन का समय बिताना जरूरी है. ऐसे में आईपीएल के समापन के बाद इंग्लैंड में क्वॉरंटीन को लेकर कोई दिक्कत न हो. इसके लिए आईसीसी ने यह फैसला लिया है. Also Read - ICC टेस्ट रैंकिंग में नंबर-1 बनी ऑस्ट्रेलिया, दूसरे स्थान पर पहुंची टीम इंडिया

Also Read - Bangladesh का दौरा करेगी टीम, मई में खेले जाएंगे 2 टेस्ट मैच

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप की रैंकिंग में फिलहाल न्यूजीलैंड और भारत की टीमें टॉप 2 में शामिल हैं. इस रैंकिंग में पहले दो स्थान पर रहने वाली टीमें ही टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल के लिए आमने-सामने होंगी. भारत के बाद इस रैंकिंग में ऑस्ट्रेलिया नंबर 3 पर है. वहीं सोमवार को श्रीलंका को टेस्ट सीरीज में 2-0 से पीटने वाला इंग्लैंड नंबर 4 पर है.

भारत और इंग्लैंड (India vs England) की टीमें 5 फरवरी से 4 टेस्ट मैच की सीरीज का चेन्नई में आगाज करेंगी. यह सीरीज भी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का हिस्सा है. दूसरी ओर ऑस्ट्रेलिया की टीम साउथ अफ्रीका से मुकाबला करेगी. अगर ऑस्ट्रेलिया को इस फाइनल की दौड़ में बने रहना है तो उसे हर हाल में साउथ अफ्रीका से यह टेस्ट सीरीज जीतनी होगी.