पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की अगुवाई में खेल चुके सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) का कहना है कि अगर ये सीनियर विकेटीकीपर बल्लेबाज फिट हैं तो उन्हें आगे खेलना चाहिए क्योंकि किसी को भी संन्यास लेने पर मजबूर नहीं किया जा सकता। Also Read - डोमेस्टिक लीग में तहलका मचा चुके Moksh Murgai, अब IPL खेलने की ख्वाहिश

स्टार स्पोर्ट्स के शो क्रिकेट कनेक्टेड पर धोनी के संन्यास को लेकर बातचीत के दौरान उन्होंने कहा, “उम्र केवल एक संख्या है। अगर धोनी को लगता है कि वो अच्छे फॉर्म में हैं, गेंद को अच्छे से हिट कर रहे हैं, अपने खेल का आनंद ले रहे हैं और अगर उन्हें लगता है कि वो अभ भी भारत को मैच जिता सकते हैं, खासकर कि नंबर 6 या 7 पर खेलते हुए, तो मुझे लगता है कि उन्हें खेलना जारी रखना चाहिए क्योंकि कोई भी किसी को संन्यास लेने के लिए मजबूर नहीं कर सकता।” Also Read - IPL 2021 में शानदार प्रदर्शन करने वाले इन 5 खिलाड़ियों को श्रीलंका दौरे पर जाने वाले भारतीय स्क्वाड में मिल सकता है मौका

गंभीर ने कहा, “कई समीक्षक एमएस धोनी जैसे लोगों पर उनकी उम्र को लेकर काफी दबाव डाल सकते हैं लेकिन ये (संन्यास) एक निजी फैसला है। जब आप क्रिकेट खेलना शुरू करते हैं तो वो निजी फैसला होता है, जब आप क्रिकेट छोड़ते हैं तो वो निजी फैसला होता है।” Also Read - पूर्व कप्तान गावस्कर ने कहा- उम्मीदों के दबाव से प्रभावित हो रहा है शुबमन गिल का करियर

पिछले साल इंग्लैंड में खेले गए विश्व कप में आखिरी बार नजर आए धोनी फिलहाल रांची में आराम कर रहे हैं। दरअसल धोनी को मार्च में होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग सीजन के साथ मैदान पर वापसी करनी थी लेकिन कोरोना वायरस की वजह से इस लीग को स्थगित कर दिया गया।

अब टूर्नामेंट का आयोजन 19 सितंबर से यूएई में होगा। आईपीएल के 13वें सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान लंबे समय के बाद फिर से मैदान पर नजर आएंगे।