Diego Maradona dies: अर्जेंटीना के महान फुटबॉलर डिएगो मैराडोना (Diego Maradona) का बुधवार को कार्डियक अरेस्ट के चलते निधन हो गया. दुनिया भर में फुटबॉल फैन्स और खिलाड़ी इस दिग्गज को याद कर अपनी श्रद्धांजलि दे रहे हैं. भारतीय फुटबॉल टीम के पूर्व कप्तान आईएम विजयन (IM Vijayan) ने भी इस महान फुटबॉलर को श्रद्धांजलि देते हुए उनके साथ बिताए एक खास लम्हे को याद किया. महान डिएगो एक बार निजी कार्यक्रम के दौरान केरल आए थे, तब विजयन को उनके साथ समय बिताने का मौका मिला था.Also Read - English Premier League: क्रिस्टियानो रोनाल्डो के गोल की मदद से मैनचेस्टर यूनाइटेड ने ब्रेंटफोर्ड को 3-0 से हराया

अर्जेंटीना के इस दिग्गज फुटबॉलर ने तब फुटबॉल के आकार का केक काटने से इनकार कर दिया था. विजयन ने कहा कि उस घटना से उन्हें पता चला कि फुटबॉल और मैदान की मैराडोना के लिए क्या अहमियत थी. उन्होंने न्यूज एजेंसी पीटीआई से बात करते हुए बताया, ‘कन्नूर में 2012 में मैने देखा कि मैराडोना के लिए फुटबॉल के क्या मायने हैं. जिस समारोह में वह हिस्सा लेने आए थे वहां मैदान के आकार का एक केक बनाया गया था, जिसमें सबसे ऊपर फुटबॉल रखी थी. मैराडोना ने जब इसे देखा तो उन्होंने केक काटने से इनकार कर दिया.’ Also Read - दिवंगत फुटबॉलर माराडोना की 'Hand of God' जर्सी की नीलामी में 40 करोड़ रुपये की बोली लगने की उम्मीद

उन्होंने कहा, ‘उन्होंने केक का बाहरी हिस्सा ही काटा. मैं कह सकता हूं कि स्टेज पर उनके साथ 2 मिनट फुटबॉल खेलना मेरे जीवन की सबसे बड़ी उपलब्धियों में से है.’ विजयन ने कहा कि मैराडोना का बेलागपन और बच्चों की तरह उत्साह उनके जीवन की कई समस्याओं का कारण रहा. Also Read - Russia-Ukraine War: FIFA ने दिया रूस को झटका, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लगाया बड़ा 'बैन'

देश के इस महान फुटबॉलर ने कहा, ‘वह दिल से बच्चे ही थे और अपने बेलागपन के कारण समस्याओं से घिर जाते थे. वह साफ साफ कहने में विश्वास रखते थे.’ उन्होंने कहा, ‘वह भले ही हमारे बीच नहीं हैं लेकिन फुटबॉलरों के दिलों में वह हमेशा रहेंगे. मेरे लिए वह भगवान हैं और भगवान कभी मरते नहीं.’