बासेट्रे (सेंट किट्स), 16 जून। इमरान ताहिर (45-7 विकेट) की कहर बरपाती फिरकी की बदौलत दक्षिण अफ्रीका ने बुधवार को त्रिकोणीय श्रृंखला के छठवें मैच में वेस्टइंडीज को 139 रनों से करारी शिकस्त दी। वार्नर पार्क मैदान पर खेले गए इस मैच में दक्षिण अफ्रीका ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवरों में 343 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया था। वेस्टइंडीज की टीम लक्ष्य हासिल नहीं कर पाई और 38 ओवरों में 204 रनों पर ही ढेर हो गई।

दक्षिण अफ्रीका ने पहले हाशिम अमला (110), क्विंटन डी काक (71) और फाफ डू प्लेसिस (नाबाद 73) की पारियों की दम पर विशाल स्कोर बनाया, फिर ताहिर ने अपनी फिरकी में वेस्टइंडीज बल्लेबाजों को फंसाकर टीम को जीत दिलाई।

ताहिर का यह अभी तक के करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। उनका यह प्रदर्शन दक्षिण अफ्रीका गेंदबाज द्वारा एकदिवसीय में किया गया सवेश्रेष्ठ प्रदर्शन भी है। इससे पहले यह रिकार्ड कागिसो रबाडा के नाम था। यह भी पढ़े-टी-20 सेमिफाइनल में भारत की हार की वजह बने लिंडल सिमंस बोले, विराट कोहली हैं ‘घमंडी’ और ‘आक्रामक’

ताहिर इसके साथ ही दक्षिण अफ्रीका के लिए सबसे तेजी से 100 विकेट लेने वाले गेंदबाज भी बन गए हैं। ताहिर के अलावा पाकिस्तान के शाहिद अफरीदी और श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन ने ही अब तक एकदिवसीय पारी में सात विकेट लिए हैं।

वेस्टइंडीज ने टॉस जीतकतर पहले गेंदबाजी का फैसला किया, लेकिन अमला और डी कॉक ने जेसन होल्डर के इस फैसले को गलत साबित किया। दोनों ने पहले विकेट के लिए 182 रन जोड़े। अमला ने अपनी पारी में 99 गेंदें खेलते हुए 13 चौके लगाए। वहीं, डी काक ने अपनी पारी में 103 गेंदों का सामना करते हुए छह चौके लगाए।

दोनों ने मेजबानों को पहले विकेट के लिए 33.1 ओवरों का इंतजार करवाया। केरन पोलार्ड ने अमला को आउट कर टीम को पहली सफलता दिलाई। तीन रन बाद जेरोम टेलर ने डी काक को पवेलियन भेज वेस्टइंडीज को दूसरी सफलता दिलाई।

इसके बाद डू प्लेसिस ने क्रिस मौरिस (40), अब्राहम डिविसिलयर्स (27) और ज्यां पाल ड्यूमिनी (नाबाद 10) के साथ अहम साझेदारियां कर टीम को 343 के मजबूत लक्ष्य तक पहुंचाया।

विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी वेस्टइंडीज की शुरुआत तो अच्छी रही, लेकिन टीम के बाकी बल्लेबाज इसका फायदा नहीं उठा सके और लगातार अंतराल पर विकेट गंवाते रहे।

आंद्रे फ्लेचर (21) और जॉनसन चार्ल्स (49) ने पहले विकेट के लिए 69 रन जोड़े। ताहिर ने फ्लेचर को अपना पहला शिकार बनाया और टीम को पहली सफलता दिलाई। इसके बाद ताहिर ने जो विकेट लेने का सिलसिला शुरू किया उसे वेस्टइंडीज टीम का आखिरी विकेट लेने पर ही रोका।

तबरेज शम्सी ने भी दो विकेट अपने नाम किए। उन्होंने दूसरे छोर से ताहिर का अच्छा साथ दिया। इन दोनों के अलावा वेन पार्नेल ने एक विकेट लिया। ताहिर को मैन ऑफ द मैच चुना गया।