सलामी बल्लेबाज डीन एल्गर (नाबाद 133), विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक (नाबाद 69) और कप्तान फाफ डु प्लेसिस (55) के अर्धशतक की मदद से दक्षिण अफ्रीका ने तीन मैचों की सीरीज के पहले टेस्ट मैच के तीसरे दिन टी तक अपनी पहली पारी में 5 विकेट पर 292 रन बना लिए हैं.

22 साल के हुए रिषभ पंत, इस मामले में सचिन और तातेंदा ताएबू के क्लब में हैं शामिल

एल्गर अपनी शतकीय पारी में 14 चौके और 4 छक्के लगा चुके हैं जबकि डी कॉक 98 गेंदों पर 11 चौके और एक छक्का जड़ चुके हैं. दोनों बल्लेबाजों के बीच छठे विकेट पर 114 रन की साझेदारी हो चुकी है.

भारत ने अपनी पहली पारी 7 विकेट पर 502 रन पर घोषित की थी. ऐसे में मेहमान दक्षिण अफ्रीकी टीम मेजबान टीम के पहली पारी में बनाए गए कुल रन संख्या से अब 210 रन पीछे है जबकि उसके पांच विकेट बचे हुए हैं.

2019 World Athletics Championships: तेजिंदर पाल सिंह तूर और जिन्सन जॉनसन फाइनल से चूके

एल्गर ने कप्तान फाफ डु प्लेसिस (55) के साथ मिलकर पांचवें विकेट पर 115 रन जोड़े. तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने सत्र का एकमात्र विकेट हासिल किया. उन्होंने टेम्बा बावुमा (18) को एलबीडब्ल्ल्य आउट किया.

लंच तक 4 विकेट पर 153 रन बनाए थे दक्षिण अफ्रीका ने 

इससे पहले एल्गर और डु प्लेसिस ने भारतीय आक्रमण का डटकर सामना करते हुए लंच तक 4 विकेट पर 153 रन बनाए.  दक्षिण अफ्रीका ने

तीसरे दिन के खेल की शुरुआत 3  विकेट पर 39 रन से खेलना शुरू किया. रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा ने दक्षिण अफ्रीकी स्पिनरों की तुलना में पिच से कहीं ज्यादा फायदा हासिल किया. अश्विन गुरुवार को अंतिम सत्र में काफी असरदार दिख रहे थे लेकिन सुबह के सत्र में वह एक भी विकेट हासिल नहीं कर पाए.

एल्गर को मिला जीवनदान 

एल्गर और डु प्लेसिस दोनों ने अश्विन के खिलाफ अपने पैरों का इस्तेमाल करने से कोई भय नहीं दिखाया और कई बेहतरीन शॉट लगाए.
भाग्य भी उनके साथ था क्योंकि जब  एल्गर 74  रन पर थे तब जडेजा की गेंद पर  रिद्धिमान साहा ने उनका कैच छोड़ दिया.