अनुभवी सलामी बल्लेबाज डीन एल्गर (160), विकेटकीपर क्विंटन डी कॉक (111) और कप्तान फाफ डु प्लेसिस (55) की शानदार पारी की बदौलत दक्षिण अफ्रीकी टीम ने मेजबान भारत के खिलाफ विशाखापत्तनम टेस्ट मैच में संषर्घ  जरूर दिखाया लेकिन आखिर के सेशन में आर अश्विन के ‘पंंच’ ने भारत की वापसी करा दी।

मेहमान टीम के इन बल्लेबाजों ने भारतीय गेंदबाजों का डटकर सामना किया। तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक दक्षिण अफ्रीका ने अपनी पहली पारी में 8 विकेट पर 385 रन बनाए। हालांकि मेहमान टीम मेजबान के पहली पारी में बनाए गए कुल रन संख्या से अब भी 117 रन पीछे है। सेनुरन मुतुस्वामी 12 और केशव महाराज चार रन पर नाबाद लौटे।

पहले दो सेशन में विकेट के लिए तरसते रहे भारतीय गेंदबाज

भारत को पहले दो सेशन में केवल दो विकेट मिले। एल्गर और डि कॉक तीसरे सेशन में आउट हुए। भारत की ओर से सबसे अधिक विकेट ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की झोली में आए। आर अश्विन 128 रन देकर 5 विकेट झटक चुके हैं।

द. अफ्रीका ने दिन की शुरुआत 3 विकेट पर 39 रन से की

दक्षिण अफ्रीका ने दिन की शुरुआत तीन विकेट पर 39 रन से की। एल्गर ने दक्षिण अफ्रीकी पारी को अच्छी तरह से संवारा और उन्हें दूसरे छोर से पर्याप्त सहयोग मिला।

एल्गर ने डु प्लेसिस के साथ 115 जबकि डी कॉक के साथ 164 रन जोड़े

एल्गर और डु प्लेसिस (55) ने पांचवें विकेट के लिए 115 रन की साझेदारी की। इसके बाद डि कॉक ने बखूबी उनका साथ दिया। इन दोनों ने छठे विकेट के लिए 164 रन जोड़े।

दूसरे सेशन में अश्विन ने डु प्लेसिस का विकेट लेने के बाद तेजी से टर्न लेती गेंद पर डि कॉक को बोल्ड किया।

एल्गर बने जडेजा के 200वां शिकार

रविंद्र जडेजा (116/2) ने एल्गर का विकेट लेकर टेस्ट मैचों में अपना 200वां विकेट लिया। वह यह उपलब्धि हासिल करने वाले 10वें भारतीय गेंदबाज हैं।

तीसरे दिन दो सेशन दक्षिण अफ्रीका के नाम रहे

पिच बल्लेबाजी के अनुकूल थी लेकिन फिर दक्षिण अफ्रीका ने शानदार वापसी की, क्योंकि दूसरे दिन उसने अपने शीर्ष क्रम के तीन बल्लेबाज जल्दी गंवा दिए थे। तीसरे दिन के पहले दोनों सेशन दक्षिण अफ्रीका के नाम रहे लेकिन भारतीय गेंदबाजों ने तीसरे सेशन में अच्छी वापसी की।

एल्गर का कैच पुजारा ने लपका

तीसरे सेशन में एल्गर आउट होने वाले पहले बल्लेबाज थे जिनका चेतेश्वर पुजारा स्क्वायर लेग पर खूबसूरत कैच लिया। डि कॉक ने भी एल्गर की तरह अश्विन पर छक्का जड़कर अपना शतक पूरा किया। अश्विन ने वर्नोन फिलैंडर को बोल्ड कर अपना 5वां विकेट लिया।

एल्गर ने टेस्ट करियर का 12 वां शतक पूरा किया

एल्गर ने उपमहाद्वीप की कड़ी परिस्थितियों में अपने कौशल का शानदार नजारा पेश किया और अपने टेस्ट करियर का 12वां शतक पूरा किया। हाशिम अमला के 2010 में शतक लगाने के बाद वह भारतीय धरती पर तिहरे अंक में पहुंचने वाले पहले दक्षिण अफ्रीकी हैं।

बावुमा 18 रन बनाकर हुए आउट

दक्षिण अफ्रीका ने सुबह टेंबा बावुमा (18) का विकेट जल्दी गंवा दिया जिससे स्कोर चार विकेट पर 63 रन हो गया था। बावुमा को इशांत शर्मा ने एलबीडब्ल्यसू आउट किया। इसके बाद एल्गर और डु प्लेसिस ने भारतीय आक्रमण का डटकर सामना किया और लंच तक स्कोर 4 विकेट पर 153 रन पर पहुंचाया।

74 रन पर मिला एल्गर को जीवनदान

डीन एल्गर जब 74 रन बल्लेबाजी कर रहे थे तब रविंद्र जडेजा की गेंद पर विकेटकीपर रिद्धिमान साहा उनका मुश्किल कैच नहीं लपक सके।

भारत ने अपनी पहली पारी 7 विकेट पर 502 रन बनाकर घोषित की

भारतीय टीम ने दूसरे दिन अपनी पहली पारी 7 विकेट 502 रन बनाकर घोषित की। भारत की ओर से मयंक अग्रवाल 215 जबकि रोहित शर्मा ने 176 रन की पारी खेली थी।