भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के खिलाफ पुणे टेस्ट मैच के दूसरे दिन पहली पारी में शानदार शतक लगाया.

अनिल कुंबले का किंग्स इलेवन पंजाब टीम का हेड कोच बनना तय

कोहली के टेस्ट करियर का ये 26वां जबकि इंटरनेशनल क्रिकेट में ये उनका 69वां शतक है. विराट ने घरेलू सरजमीं पर अपने टेस्ट शतकों की संख्या 12 तक पहुंचा दिया है. कोहली 183 गेंदों पर 16 चौकों की मदद से 104 रन बनाकर नाबाद हैं.

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बतौर टेस्ट कप्तान कोहली का ये दूसरा शतक है. इससे पहले महेंद्र सिंह धोनी और सचिन तेंदुलकर ने एक-एक शतक लगाए थे.

पोंटिंग की बराबरी की

विराट कोहली बतौर टेस्ट कप्तान सर्वाधिक शतक लगाने के मामले में ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज रिकी पोंटिंग के साथ संयुक्त रूप से दूसरे नंबर पर पहुंच गए हैं. इस लिस्ट में टॉप पर दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान ग्रीम स्मिथ हैं जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में बतौर कप्तान 25 शतक जड़े हैं.

क्वार्टर फाइनल में लक्ष्य सेन के सामने होंगे हमवतन राहुल भारद्वाज

कोहली और पोंटिंग के बतौर टेस्ट कप्तान 19-19 शतक हैं. इसव लिस्ट में तीसरे नंबर पर ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान एलन बॉर्डर, स्टीव वॉ और स्टीव स्मिथ हैं. इन तीनों के 15-15 शतक हैं.

डॉन ब्रैडमैन के क्लब में शामिल हुए कोहली

विराट सबसे कम पारियों में 26 टेस्ट शतक जड़ने के मामले में चौथे नंबर पर पहुंच गए हैं. उन्होंने 138वीं टेस्ट पारी में ये उपलब्धि हासिल की. इससे पहले ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज सर डॉन ब्रैडमैन 69 और स्टीव स्मिथ 121वीं पारी में ये मुकाम हासिल कर चुके हैं.

भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने 26 टेस्ट शतकों का आंकड़ा 144वीं पारी में छुआ था.

50 टेस्ट में कप्तानी करने वाले दूसरे भारतीय बने

कोहली इस टेस्ट मैच में उतरने के साथ 50 टेस्ट मैचों में कप्तानी करने वाले दूसरे भारतीय बने. इस टेस्ट मैच से पहले कोहली और पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) (बतौर कप्तान 49 टेस्ट) के साथ संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर थे. कोहली और गांगुली से पहले पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) ने 2008 से 2014 तक 60 टेस्ट मैचों में भारत के लिए कप्तानी की है.

सबसे सफल भारतीय टेस्ट कप्तान हैं कोहली

कोहली भारत के सबसे सफल टेस्ट कप्तान हैं. उन्होंने 49 में से 29 टेस्ट मैचों में जीत हासिल की है और 10 मैच हारे हैं. 10 मैच ड्रॉ रहे हैं. धोनी ने 60 में से 27 टेस्ट मैच जीते थे. वहीं गांगुली ने 21 टेस्ट मैचों में जीत हासिल की थी.