भले ही वेस्टइंडीज की टीम टी-20 में दो बार की वर्ल्ड चैंपियन हो बावजूद इसके पिछले दो वर्षों से उसका प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा है.  भारत के खिलाफ सीरीज से पहले विंडीज को भारत में ही अफगानिस्तान के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज में 1-2 से हार का सामना करना पड़ा था.

टीम इंडिया को विंडीज के इन 5 खिलाड़ियों से रहना होगा सावधान

विंडीज के दिग्गज बल्लेबाज ब्रायन लारा (Brian Lara) यह बात अच्छी तरह जानते हैं कि टीम इंडिया को उसके घर में हराना आसान नहीं है.  लारा का कहना है कि कीरोन पोलार्ड की अगुआई वाली टीम को मेजबान भारत के खिलाफ वनडे सीरीज से बेहतर टीम के रूप में लौटना चाहिए, भले ही वह जीतने में नाकाम रहे.

वेस्टइंडीज और भारत के बीच तीन टी-20 और इतने ही वनडे मैचों की सीरीज शुक्रवार से हैदराबाद में शुरू होगी.

बकौल लारा, ‘कीरोन पोलार्ड (Kieron Pollard) को टीम बनानी होगी.  भारत में खेलना हमेशा कठिन चुनौती होता है.  भले ही जीत मिले या नहीं लेकिन उन्हें टूर्नामेंट के बाद बेहतर टीम के रूप में लौटना चाहिए. ’

पोलार्ड को कप्तान बनाए जाने का किया समर्थन 

लारा ने सीमित ओवरों के प्रारूप में पोलार्ड को कप्तान बनाए जाने का समर्थन किया.  लारा ने शुक्रवार को मुंबई में पत्रकारों से कहा,‘वेस्टइंडीज के लिए भले ही वह इतना नहीं खेले हों लेकिन दुनिया भर में लीग खेले हैं.  विरोधी उनका सम्मान करते हैं.  उन्हें कप्तान बनाने का फैसला बुरा नहीं है. ’

उन्होंने कहा, ‘साथी खिलाड़ी भी उनका काफी सम्मान करते हैं.  अगले 12 महीने के भीतर टी-20 विश्व कप होना है और उनके पास अपार अनुभव है.  यह अच्छा फैसला है लेकिन उनके सामने चुनौती आसान नहीं है. ’

मन में ठान लूं तो कुछ भी हासिल कर सकता हूं: फेबियन एलेन

लारा ने कहा, ‘वेस्टइंडीज दो बार टी-20 विश्व कप जीत चुका है और इस प्रारूप में टीमें उससे खौफ खाती हैं. ’ ये सीरीज दोनों टीमों के लिए अगले साल ऑस्ट्रेलिया में आयोजित होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप के लिए अहम मानी जा रही है.