मुंबई में खेले जा रहे वनडे सीरीज के पहले मुकाबले से एक दिन पहले भारतीय टीम के कप्‍तान विराट कोहली ने जो कहा था उसे करके भी दिखाया. इस मैच में नंबर-3 पर बल्‍लेबाजी के लिए केएल राहुल को भेजा गया. Also Read - ICC Test Rankings: Rohit Sharma ने हासिल की करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग, R. Ashwin भी तीसरे पायदान पर

सलामी बल्‍लेबाज के तौर पर रोहित शर्मा और शिखर धवन आए। महज 10 रन के निजी स्‍कोर पर रोहित शर्मा के आउट होने के बाद विराट कोहली ने कुर्बानी देते हुए केएल राहुल को अपनी जगह बल्‍लेबाजी के लिए भेजा. Also Read - Devdutt Paddikal: शतक पर शतक लगा रहा है विराट कोहली का ये ओपनर बल्लेबाज, क्या IPL में RCB के लिए फिर करेगा कमाल

पढ़ें:- विराट आज 97 मैच कम खेलकर ही तोड़ सकते हैं राहुल द्रविड़ का बड़ा रिकॉर्ड Also Read - मोटेरा पिच को लेकर कोहली के बयान से नाराज हैं एलेस्टर कुक; कहा- उस पिच पर बल्लेबाजी करना बेहत मुश्किल

मैच से एक दिन पहले मीडिया से बातचीत के दौरान विराट कोहली से पूछा गया था कि उपकप्‍तान रोहित शर्मा की वापसी के बाद वो सलामी जोड़ी की दुविधा से कैसे पार पाएंगे. मसलन रोहित श्रीलंका दौरे के दौरान आराम करने के बाद वापस टीम के साथ जुड़ गए हैं.

शिखर धवन के चोटिल रहने के दौरान केएल राहुल ने शानदार प्रदर्शन कर टीम में अपनी दावेदारी मजबूत कर ली है. वहीं, शिखर धवन ने भी वापसी के बाद श्रीलंका के खिलाफ शानदार प्रदर्शन किया है.

पढ़ें:- IND vs AUS, 1st ODI: जानें कहां और कब देखें ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ पहला वनडे मुकाबला

कप्‍तान विराट कोहली ने इस सवाल पर कहा था कि जब तीनों अच्‍छा खेल रहे हैं तो तीनों ही बल्‍लेबाजों को प्‍लेइंग इलेवन में शामिल किया जा सकता है.

विराट ने कहा था, “मैं टीम में अपने खेलने के स्‍थान को लेकर ज्‍यादा असुरक्षा की भावना नहीं रखता हूं.” विराट ने माना था कि तीनों के खेलने पर उनके बल्‍लेबाजी क्रम में नीचे जाने की संभावना बेहद प्रबल है.

“बतौर कप्‍तान मेरी यह जिम्‍मेदारी है कि आने वाली पीढ़ी भी हमारे बाद तैयार हो. बहुत से लोग अभी इस बारे में ज्‍यादा नहीं सो रहे होंगे. एक कप्‍तान के तौर पर मुझे वर्तमान के साथ-साथ आने वाले समय की तरफ भी देखना होगा.”