एडिलेड और मेलबर्न टेस्‍ट में ऑस्‍ट्रेलिया के लिए ओपनिंग करने वाले बल्‍लेबाज मैथ्‍यू वेड पर अब डेविड वार्नर की वापसी के साथ बाहर बैठने की तलवार लटक रही है. हालांकि दूसरे सलामी बल्‍लेबाज विल पुकोवस्की भी चोटिल हैं. वेड का कहना है कि वो टीम के लिए निचले क्रम पर भी खेलने को तैयार हैं. Also Read - भारत लौटकर Mohammed Siraj ने किया पिता को याद- बोले- मेरे सभी विकेट्स उन्हें समर्पित

भारत और ऑस्‍ट्रेलिया की टीमें अब सात जनवरी से दूसरे टेस्‍ट मैच में एक दूसरे के खिलाफ मैदान में उतरेंगी. वेड ने कहा कि अगर दोनों सलामी बल्लेबाज विल पुकोवस्की और डेविड वार्नर वापस टीम में आते हैं तो वह बाहर भी बैठने को तैयार हैं. डेविड वार्नर ने स्‍पष्‍ट किया कि वे हर हाल में सिडनी टेस्‍ट मैच खेलने जा रहे हैं. पुकोवस्‍की भी ऑस्ट्रेलियाई अीम से जुड़ चुके हैं और नेट्स में पसीना बहा रहे है. Also Read - मैं नहीं चाहता कि MS Dhoni से हो मेरी तुलना, मैं खुद की पहचान बनाना चाहता हूं: Rishabh Pant

वेड ने रविवार को सुबह मीडिया से बात करते हुए कहा, मैं जहां बल्लेबाजी कर रहा हूं वहां खेलने को तैयार हूं और अगर मैं नीचे भी खेलने आता हूं तो मैं वहां बल्लेबाजी करने में सहज हूं. Also Read - भारत से हार के बाद ऑस्ट्रेलिया पर फूटे Shane Warne, बोले- अब होंगे बड़े बदलाव

‘वार्नर का खेलना तय’

“उम्मीद है कि वार्नर खेलेंगे. इसलिए या तो मैं और डेविड पारी की शुरुआत करेंगे या कोई बदलाव होगा. मुझे नहीं पता कि मैं खेलूंगा या विल.”
“मुझे नहीं बताया गया है कि मैं खेलूंगा या नहीं. विल टीम में वापस आए हैं. बर्न्‍स बाहर गए हैं. बदलाव होते हैं या नहीं या मैं नीचे खेलता हूं, या मैं खेलूंगा भी कि नहीं, कौन जानता है.”

‘लैंगर ने पूछा था’

मैथ्‍यू वेड ने बताया, “कोच जस्टीन लैंगर ने मुझसे पूछा था कि क्या मैं सलामी बल्‍लेबाजी के लिए तैयार हूं. उन्होंने मुझे मजबूर नहीं किया या आदेश नहीं दिया. पूछा गया था कि क्या मैं ऊपरी क्रम में बल्लेबाजी करने को और ओपनिंग करने को तैयार हूं. वार्नर वापस आते हैं तो मुझे ज्यादा चिंता नहीं है.”

‘ये एक मौका है’

“मैंने सोचा था कि यह एक मौका है यह साबित करने का कि मैं एक से सात नंबर पर कहीं भी बल्लेबाजी कर सकता हूं. टेस्ट लाइन-अप में हर जगह. मुझे लगा था कि यह आगे जाने का अच्छा मौका है. टूर पर अगर कुछ भी होता है तो मैं किसी भी जगह खेल सकता हूं. मैं टिम पेन की जगह विकेटकीपिंग भी कर सकता हूं. इसलिए मैं इसे सकारात्मक तरीके से देखता हूं.”