ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ खेल जा रहे टेस्‍ट सीरीज के चौथे और आखिरी मुकाबले (India vs Australia, 4th Test) में भारत की तरफ से दो युवाओं को टेस्‍ट डेब्‍यू का मौका मिला. तेज गेंदबाज टी नटराजन (T Natarajan Test Debut) और युवा ऑलराउंडर वाशिंगटन सुंदर (Washington Sundar Test Debut) इस मुकाबले से भारतीय टीम में डेब्‍यू करने जा रहे हैं. टीम इंडिया ने इस मुकाबले से एक दिन पहले प्‍लेइंग इलेवन का ऐलान नहीं किया था.Also Read - मैं Ajinkya Rahane को 2 साल पहले बाहर कर चुका होता... Sanjay Manjrekar ने निकाली भड़ास

टी नटराजन (T Natarajan Test Debut) गाबा में टेस्‍ट डेब्‍यू करने के साथ भारत की तरफ से खेल के सभी फॉर्मेट में एक ही टेस्‍ट सीरीज के दौरान डेब्‍यू करने वाले पहले खिलाड़ी बन गए हैं. आईपीएल में शानदार प्रदर्शन के कारण ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर वनडे टीम में जगह पाने वाले नटराजन ने इसके बाद मौजूदा सीरीज में ही टेस्‍ट डेब्‍यू भी किया था. Also Read - BCCI Annual Contracts: पुजारा-रहाणे का 'बी' श्रेणी में जाना तय, शार्दुल-अक्षर को मिलेगा फायदा !

जसप्रीत बुमराह, मोहम्‍मद शमी, उमेश यादव के चोटिल होने के बाद गेंदबाज की किल्‍लत से जूझ रही भारतीय टीम में आज टी नटराजन टेस्‍ट डेब्‍यू करने जा रहे हैं. Also Read - Happy birthday चेतेश्वर पुजारा; जानिए कितनी है इस भारतीय क्रिकेटर की सालाना सैलरी

पहले टेस्‍ट के मुकाबले टीम में रह गए केवल दो खिलाड़ी

एडिलेड टेस्‍ट से होते हुए ब्रिसबेन में खेले जा रहे सीरीज के आखिरी मुकाबले की तुलना की जाए तो भारत के केवल दो ही ऐसे खिलाड़ी हैं जो सभी मैचों का हिस्‍सा रहे हैं. अधिकांश खिलाड़ी चोट के चलते या खराब फॉर्म के चलते रिप्‍लेस कर दिए गए हैं. कार्यवाहक कप्‍तान अजिंक्‍य रहाणे (Ajinkya Rahane) और तीसरे नंबर के बल्‍लेबाज चेतेश्‍वर पुजारा (Chateshwar Pujara) सभी चार टेस्‍ट मैचों का हिस्‍सा रहे हैं.

पहले टेस्‍ट में पृथ्‍वी शॉ और मयंक अग्रवाल ओपनिंग कर रहे थे जबकि अब रोहित शर्मा के साथ शुबमन गिल सलामी बल्‍लेबाजी की कमान संभाले हुए हैं. विराट पत्‍नी की प्रेग्‍नेंसी के चलते पहले टेस्‍ट के बाद भारत लौट गए थे. इसी तरह जबसप्रीत बुमराह, मोहम्‍मद शर्मी उमेश यादव और स्पिनर रविचंद्रन अश्विन भी चोट के चलते अब सीरीज का हिस्‍सा नहीं हैं.

पहले टेस्‍ट में रिद्धिमान साहा विकेटकीपर बल्‍लेबाज की भूमिका में थे जबकि अब रिषभ यह जिम्‍मेदारी संभाले हुए हैं. ब्रिसबेन टेस्‍ट में भारत के लिए 11 बल्‍लेबाज पूरे कर पाना भी मुश्किल नजर आ रहा था. ऐसे में आज अश्विन की जगह वाशिंगटन सुंदर को टेस्‍ट डेब्‍यू का मौका मिला.