भुवनेश्वर: भारतीय टीम के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने कहा है कि ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी सस्ते में समेटने में अहम भूमिका निभाएंगे. ऑस्ट्रेलिया के ऑफ स्पिनर नाथन लायन पहले टेस्ट मैच में भारत की दूसरी पारी के दौरान पिच की खुरदरी सतह का पूरा फायदा उठा रहे हैं.

बुमराह ने पहले टेस्ट मैच के तीसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद कहा, “निश्चित रूप से अश्विन अब ज्यादा अहम भूमिका निभाएंगे क्योंकि सतह काफी खुरदुरी हो गई है. हमने देखा कि नाथन लायन इससे फायदा उठा रहे हैं. वह अनुभवी गेंदबाज हैं और जानते हैं कि क्या करना है। इसलिए वे निश्चित रूप से अहम भूमिका निभाएंगे.”

भारत को दूसरी पारी में अब तक 166 रन की बढ़त मिल चुकी है जबकि उसके सात विकेट बाकी हैं और अभी दो दिन का खेल बचा है. बुमराह ने कहा, “हम वह लेंथ जानने की कोशिश कर रहे हैं जो यहां उपयोगी हो. दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड में काफी लेटरल मूवमेंट था. यहां विकेट थोड़े से सपाट हैं, इसलिए उछाल मिलता है, लेकिन आपको कंसिस्टेंसी दिखानी होगी.”

भारतीय तेज गेंदबाज ने कहा, “पिछले कई वर्षों में हमने यही पाया है. हम इसी पर ध्यान लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि अगर हम रन नहीं लुटाएं और दोनों छोर से दबाव बना दें तो हमें विकेट मिल सकते हैं.” बुमराह ने कहा कि उन्हें पूरा भरोसा है कि भारतीय टीम चौथे दिन अच्छी बढ़त बना लेगी. बुमराह ने आगे कहा, “मुझे लगता है कि मुकाबला थोड़ा सा हमारी तरफ झुका हुआ है क्योंकि दिन का अंतिम विकेट (विराट कोहली) उनके लिए अच्छा रहा, लेकिन हमने अच्छी बढ़त बनाई हुई है. कल का पहला सेशन हमारे लिये अहम होगा. अगर हम इसका फायदा उठा लेते हैं तो इस मैच में अच्छी पकड़ बना लेंगे.”

पुजारा की बैटिंग की फैन हुई कंगारू टीम, इस बल्लेबाज ने कहा हम उनसे सीख सकते हैं

अपने गेंदबाजी में आए बदलाव के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि वनडे क्रिकेट के कारण वह लंबे प्रारूप में अच्छा कर रहे हैं. उन्होंने कहा, “दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले मैं केवल वनडे क्रिकेट खेलता था. मैं हमेशा सीखने और सवाल पूछने की कोशिश करता था. मैं विपक्षी टीम से भी सीखने की कोशिश करता था.”

Ind Vs Aus: अपनी आदत से बाज नहीं आए कंगारू, एडीलेड टेस्ट में विराट कोहली की हुई हूटिंग

बुमराह ने नंबर-3 पर बल्लेबाजी करने वाले चेतेश्वर पुजारा के धर्य की तारीफ करते हुए कहा कि उनकी संयमभरी पारी भारत के लिए महत्वपूर्ण है. उन्होंने कहा, “पुजारा ने काफी धर्य दिखाया है. यह टेस्ट क्रिकेट का प्रमुख हथियार है. उन्हें अपने खेल और अपनी ताकत के बारे में पता है. उन्हें पता होता है कि गेंद को कैसे छोड़ना है.”

Video: सात साल के इस कश्मीरी बच्चे की तारीफ क्यों कर रहे हैं वार्न, ‘बॉल ऑफ द सेंचुरी’ से क्या है कनेक्शन?

एडीलेड टेस्ट की पहली पारी में भारत ने 250 रन बनाए थे. ऑस्ट्रेलियाई टीम पहली पारी में 235 रनों पर ऑल आउट हुई और भारतीय टीम को 15 रन की बढ़त हासिल हुई थी. दूसरी पारी में भारत ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक तीन विकेट खोकर 151 रन बनाए थे.