भारतीय टीम जब भी मैदान पर उतरती है तो विपक्षी टीम की नजरें हमेशा कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) पर रहती हैं। कप्तान कोहली ऐसे खिलाड़ी हैं जिनका विकेट लेने का मतलब है टीम इंडिया का ताकत को आधी कर देना। ऐसे में ये ताज्जुब की बात नहीं है बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी से पहले ऑस्ट्रेलिया टीम ने इस दिग्गज बल्लेबाज के खिलाफ खास योजना बनाई है। Also Read - India vs Australia- अगर भारत-ऑस्ट्रेलिया सीरीज ड्रॉ हुई तो यह पिछली हार से भी बुरी: Ricky Ponting

एडिलेड टेस्ट से पहले कंगारू टीम के कप्तान टिम पेन (Tim Paine) ने इस बारे में कहा, “हर किसी के पास महान खिलाड़ी के लिए रणनीति होती है इसलिए वो सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी होते हैं। क्योंकि वो चीजों के साथ तालमेल बिठा सकते हैं। वो वो बदल सकते हैं जो आप कर रहे हो और विराट उन खिलाड़ियों में से ही एक हैं, सर्वश्रेष्ठ नहीं तो सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में से एक। Also Read - IND vs AUS ब्रिसबेन टेस्ट: चोट से ऑस्ट्रेलिया भी हुआ परेशान, इस दिग्गज फास्ट बॉलर की हैम्स्ट्रिंग में खिंचाव

उन्होंने कहा, “ऐसा समय आता है कि जब चीजें काम नहीं करतीं, और उम्मीद है कि ऐसा एक ही टेस्ट होगा, लेकिन हमारे पास उनके खिलाफ रणनीति है जो उनके खिलाफ काम की है और उम्मीद है कि वो उनके खिलाफ काम करेगी। अगर नहीं तो हमारे पास कुछ और प्लान हैं।” Also Read - IND vs AUS: ब्रिसबेन टेस्ट में जीत चाहे भारत, इन 8 खिलाड़ियों से है 'आखिरी उम्मीद'

कोहली के खिलाफ करेंगे वैरिएशन का इस्तेमाल

पेन ने कहा कि उनके गेंदबाजी अटैक में विविधिता कोहली को परेशान करने के लिए काफी है। उन्होंने कहा, “हमारे गेंदबाजी अटैक की अच्छी बात ये है कि ये सभी अलग तरह के गेंदबाज हैं। हमारे पास नाथन लॉयन हैं और कैमरून ग्रीन भी। हमारे पास अलग एंगल, अलग स्पीड हैं। हमारे पास काफी सारे विकल्प हैं।”

डे-नाइट टेस्ट के बादशाह है स्टार्क

पेन का कहना है कि मिशेल स्टार्क के टीम में वापस आने से टीम को मजबूती मिली है क्योंकि गुलाबी गेंद से उनका रिकार्ड अच्छा है। उन्होंने सात डे-नाइट टेस्ट मैचों में 42 विकेट लिए हैं। कप्तान ने कहा, “स्टार्क शानदार हैं। उन्होंने नेट्स में कल काफी तेज गेंदबाजी की। वो शानदार लय में हैं। उनके परिवार में स्थिति अच्छी नहीं है, लेकिन हम उनकी वापसी से उत्साहित हैं। गुलाबी गेंद से उनका रिकार्ड शानदार है। गुलाबी गेंद से उनको डे-नाइट में खेलना बहुत खतरनाक है।”