भारतीय टेस्‍ट टीम के उपकप्‍तान इन दिनों भारत-बांग्‍लादेश के बीच होने वाली टेस्‍ट सीरीज के लिए अभ्‍यस में व्‍यस्‍त हैं। टीम इंडिया कोलकाता के ईडन्स गार्डन में अपना पहला डे-नाइट टेस्‍ट मैच खेलेगी। रहाणे का मानना है कि इस मैच में बल्‍लेबाजों को गेंद को देर से और शरीर के पास जाकर खेलना बेहतर रहेगा.

पढ़ें:- Day Night Test: पुजारा बोले- ‘जब दिन ढलेगा और रात होने वाली होगी तब…’

न्‍यूज एजेंसी आइएएनएस से बातचीत के दौरान अजिंक्य रहाणे ने कहा, “जहां तक परिस्थितियों से सामंजस्य बिठाने का सवाल है तो मैच से पहले अभ्यास काफी महत्वपूर्ण होगा. मैं इसको लेकर काफी रोमांचित हूं. यह एक नयी चुनौती होगी. अभी पता नहीं कि चीजें कैसे आगे बढ़ेंगी. यह मैच खेलने पर ही पता चलेगा.”

उन्‍होंने कहा, “मैच से पहले दो तीन प्रैक्टिस सेशन से हमें पिंक गेंद के बारे में सही तरीके से पता चल जाएगा कि यह कितनी स्विंग करती है और सेशन दर सेशन उसमें क्या बदलाव आते हैं.’’

पढ़ें:- CSK के स्‍टार ऑलराउंडर शेन वॉटसन बने ऑस्‍ट्रेलिया क्रिकेटर्स एसोसिएशन के नए अध्‍यक्षl

अजिंक्‍य रहाणे ने बताया, ‘‘गेंद को देर से और शरीर के पास जाकर खेलना महत्वपूर्ण होगा. मुझे नहीं लगता कि हमें गुलाबी गेंद से तालमेल बिठाने में ज्यादा दिक्कत आनी चाहिए.’’

भारतीय क्रिकेटरों ने रविवार को चिन्नास्वामी स्टेडियम में एसजी गुलाबी गेंद से अभ्यास किया था. मयंक अग्रवाल, रवींद्र जडेजा, मोहम्मद शमी, रहाणे और चेतेश्‍वर पुजारा ने पूर्व कप्तान और एनसीए प्रमुख राहुल द्रविड़ की निगरानी में नेट्स पर अभ्यास किया था.