टीम इंडिया के ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) तीन महीने बाद इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी कर रहे हैं. पांड्या ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दिसंबर में खत्म हुई टी20 सीरीज के बाद मैदान पर लौटे हैं. इससे पहले वह ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट टीम का हिस्सा नहीं थे और इंग्लैंड के खिलाफ वह प्लेइंग XI में अपनी जगह नहीं बना पाए थे. शुक्रवार को पांड्या को जैसे ही कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) और टीम मैनेजमेंट ने उन्हें जानकारी दी कि वह आज भारतीय टीम का हिस्सा होंगे तो उन्होंने सोशल मीडिया पर अपने दिवंगत पिता को याद किया है. Also Read - RCB vs MI: पहले मैच में Hardik Pandya ने नहीं की गेंदबाजी, क्‍या फिर चोटिल हो गए हैं पांड्या, क्रिस लिन ने किया खुलासा

हार्दिक पांड्या ने अपनी इस्टाग्राम स्टोरी पर अपने पिता की एक तस्वीर शेयर की है. इस तस्वीर में पांड्या के पिता ने तिरंगा ओढ़ा हुआ है. इस तस्वीर में पांड्या ने अपने पिता को याद करते हुए लिखा, ‘आज जो भी हूं आपकी वजह से हूं पापा.’ Also Read - ICC Player of the Month: भुवनेश्‍वर कुमार को मिला इंग्‍लैंड के खिलाफ शानदार प्रदर्शन का इनाम, पूनम राउत-राजेश्‍वरी गायकवाड़ भी हुई नामांकित

हार्दिक के पिता हिमांशु पांड्या (तस्वीर: हार्दिक पांड्या के इंस्टाग्राम से)

हार्दिक इन दिनों निजी तौर पर एक बड़ी पारिवारिक क्षति से जूझ रहे हैं. इसी साल जनवरी में उनके पिता हिमांशु पांड्या की कार्डिक अरेस्ट के चलते मृत्यु हो गई थी. पांड्या अपने पिता के काफी करीब थे. पिता की मौत के बाद से वह कई बार सोशल मीडिया पर उनकी यादों से जुड़े कई पलों को शेयर कर चुके हैं. Also Read - हार्दिक पांड्या जानते हैं कि वो विश्व के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में एक हैं; इसी वजह से वो बेहतर गेंदबाज बनते हैं: शेन बांड

इस बार जब वह अपने गृह राज्य गुजरात के अहमदाबाद में टी20 मैच खेल रहे हैं, तो मैच की शुरुआत से पहले एक बार फिर उन्होंने अपने पिता को याद किया है. हार्दिक पांड्या और उनके बड़े भाई क्रुणाल पांड्या ने कई बार अपने पारिवारिक चुनौतियों पर खुलकर बात की है.

दोनों भाई जब क्रिकेट में स्टार खिलाड़ी नहीं बने थे, तब वित्तीय रूप से उनका परिवार कई चुनौतियों का सामना कर रहा था. उनके पिता ने सूरत में अपना कार फाइनैंस का बिजनेस बंद कर दोनों भाइयों के लिए वड़ौदरा शिफ्ट कर लिया था. ताकि दोनों भाइयों को क्रिकेट की बेहतरीन सुविधाएं उपलब्ध हो सकें.