भारत और इंग्लैंड (India vs England) के बीच चल रही 4 टेस्ट की सीरीज 1-1 से बराबर है और दोनों टीमें अब पिंक बॉल टेस्ट (Pink Ball Test) मैच खेलनी तैयारी कर रही हैं. दोनों टीमें बुधवार (24 फरवरी) से अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में इस टेस्ट मैच की शुरुआत करेंगी. इससे पहले सोमवार तक टीम के सीनियर तेज गेंदबाज उमेश यादव (Umesh Yadav) का फिटनेस टेस्ट होगा, जिससे मालूम चलेगा कि वह इंग्लैंड के खिलाफ दिन रात के तीसरे क्रिकेट टेस्ट में भारतीय टीम का हिस्सा होंगे या नहीं.Also Read - चेतेश्‍वर पुजारा: 'मुझे कोई IPL टीम खरीदती तो बैंच पर बैठाकर रखती, अब अकल आ गई'

इस टेस्ट मैच से पहले अगर पिच की बात करें तो भारतीय टीम मैनेजमेंट चाहता है कि मोटेरा कि पिच उसके स्पिन गेंदबाजों के लिए मददगार होनी चाहिए. पहला टेस्ट हारने के बाद भारतीय टीम ने चेन्नई टेस्ट में खेले गए दूसरे टेस्ट में इंग्लैंड को टर्निंग ट्रैक पर खिलाया था, जहां वह भारतीय स्पिनरों के खिलाफ बुरी तरह फ्लॉप साबित हुई. उस मैच में भारत के सीनियर ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) और अक्षर पटेल (Axar patel) ने मेहमान टीम के कुल 15 विकेट अपने नाम किए थे. Also Read - टीम इंडिया में पहली बार चुने गए जम्मू-कश्मीर के तेज गेंदबाज Umran Malik

भारतीय प्रबंधन अपनी इस स्पिन जोड़ी से एक बार फिर ऐसा ही प्रदर्शन दोहराने की उम्मीद कर रहा है. दूधिया रोशनी में होने वाले मैच के कारण कुलदीप यादव की जगह तीसरे तेज गेंदबाज को उतारा जा सकता है. ऐसे में उमेश और मोहम्मद सिराज में से किसी एक को मौका मिलेगा. बोर्ड के एक सीनियर अधिकारी ने शनिवार को बताया, ‘उमेश का फिटनेस टेस्ट दो दिन के भीतर होगा.’ Also Read - KL Rahul बने कप्तान, विराट कोहली SA के खिलाफ T20 सीरीज से बाहर

उमेश मांसपेशी में खिंचाव के कारण पिछले साल मेलबर्न में ऑस्ट्रेलियस के खिलाफ दूसरे टेस्ट से बाहर हो गए थे. इसके बाद से ही वह आराम पर थे और भारतीय टीम में एक बार फिर वापसी करने के मकसद से खुद को फिट बनाने पर काम कर रहे थे. उमेश के अलावा टीम इंडिया की पेस अटैक की धार मोहम्मद शमी भी चोटिल हैं. उन्हें एडिलेड टेस्ट में बल्लेबाजी के दौरान कलाई में चोट लगी थी.