भारतीय टीम के तेज गेंदबाज इशांत शर्मा (Ishant Sharma) न्‍यूजीलैंड के खिलाफ मुश्किल परिस्थितियों में पांच विकेट हॉल निकालने के कारण दिग्‍गजों की प्रशंसा के पात्र बन रहे हैं. एक साल ऐसा भी था जब खराब दौर से गुजर रहे इशांत के लिए भारतीय टीम में जगह बनाए रखना तक बेहद मुश्किल साबित हो रहा था. पूर्व क्रिकेटर और मौजूदा समय में कमेंटेटर संजय मांजरेकर (Sanjay Manjrekar) ने मुश्किल घड़ी में खिलाड़ियों का साथ नहीं देने के भारतीय टीम मैनेजमेंट पर गंभीर आरोप लगाए. Also Read - विराट कोहली के बराबर हैं केन विलियमसन लेकिन सोशल मीडिया लाइक्स के लिए भारतीय कप्तान को सर्वश्रेष्ठ कहते हैं लोग: वॉन

भारत- न्‍यूजीलैंड (India vs New Zealand) मैच के तीसरे दिन स्‍टार स्‍पोर्ट्स के लिए कमेंट्री करते हुए संजय मांजरेकर (Sanjay Manjrekar) ने कहा, “सही लाइन और लेंथ पाने के लिए इशांत शर्मा को उसके हाल पर छोड़ दिया गया था. मोहम्‍मद शमी के साथ भी ऐसा ही हुआ. अब जसप्रीत बुमराह भी खुद के लिए रास्‍ता ढूंढ़ रहे हैं.” Also Read - World Test Championship से पहले भारत को झटका, Wriddhiman Saha अब भी कोरोना पॉजिटिव

पढ़ें:- इशांत के 5 विकेट हॉल पर गुरू जेसन गिलेस्‍पी की प्रतिक्रिया, दिया BCCI कोचिंग स्‍टाफ को श्रेय Also Read - भारतीय नहीं, बल्कि इस विदेशी क्रिकेटर ने Jasprit Bumrah के करियर में निभाई अहम भूमिका

मांजरेकर ने कहा, “वहीं, दूसरी ओर न्‍यूजीलैंड के लिए यह ज्‍यादा टीम वर्क प्‍लानिंग की तरह है. सभी कीवी गेंदबाज प्‍लान के अनुसार ही इस पिच पर बाउंसर डाल रहे हैं. पिच का धीमा होना भारतीय बल्‍लेबाजों की बड़ी कमजोरी रहा है.”

पढ़ें:- विराट की खराब रणनीति का खामियाजा मैच हारकर चुकाना पड़ सकता है: लक्ष्‍मण

बता दें कि ऑस्‍ट्रेलियाई दिग्‍गज जेसन गिलेस्‍पी की इशांत शर्मा (Ishant Sharma) की गेंदबाजी को नई ऊंचाईयों तक पहुंचाने में की बड़ी भूमिका है. एक समय था जब इशांत को लगातार दो साल तक आईपीएल में किसी फ्रेंचाइजी ने नहीं खरीदा था. तब वो ससेक्‍स की तरफ से इंग्लिश काउंटी में खेले. इशांत ने ससेक्‍स के मुख्‍य कोच जेसन गिलेस्‍पी की देखरेख में गेंदबाजी में सुधार कर शानदार वापसी की.