भारतीय क्रिकेट टीम इस समय पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट संघ स्टेडियम में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच खेल रही है. इस टेस्ट में टीम इंडिया पारी की जीत की दहलीज पर खड़ी है. Also Read - R Ashwin का खुलासा- कोच Ravi Shastri ने बुना था Steve Smith को फंसाने का जाल

Also Read - T Natarajan ने बताई सच्‍चाई, कहा- मिशेल स्‍टार्क की तेज गेंद तो मुझे नजर भी नहीं आ रही थी

भारतीय गेंदबाजों के सामने बेबस दिखी दक्षिण अफ्रीकी टीम; लंच तक स्कोर 74/4 Also Read - R Ashwin ले सकते हैं 800 टेस्ट विकेट, Lyon उतने काबिल नहीं: Muthaiya Muralitharan

फॉलोऑन खेलने पर मजबूर मेहमान दक्षिण अफ्रीकी टीम इस समय संकट में दिखाई दे रही है. इसका श्रेय भारतीय गेंदबाजों को जाता है जिन्होंने दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों को खुलकर शॉट खेलने की आजादी नहीं दी. नतीजतन मेहमान बल्लेबाज एक के बाद एक विकेट गंवाते जा रहे हैं.

भारतीय टीम के अनुभवी ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने इस टेस्ट में अपने नाम एक शानदार उपलब्धि दर्ज करा ली है. अश्विन ने तीसरे दिन रविवार को दक्षिण अफ्रीका के सलामी बल्लेबाज डीन एल्गर को उमेश यादव के हाथों कैच करा दक्षिण अफ्रीका को चौथा झटका दिया.

14 साल के आर प्रग्गनानंद ने विश्व यूथ शतरंज चैंपियनशिप में गोल्ड जीता

इसके साथ आर अश्विन टेस्ट मैचों में डीन एल्गर को सबसे अधिक बार आउट करने वाले गेंदबाज बन गए हैं. अश्विन ने टेस्ट में एल्गर को अब तक सर्वाधिक 6 बार आउट कर चुके हैं. इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर ऑस्ट्रेलिया के ऑफ स्पिनर नेथन लियोन, इंग्लैंड के मोइन अली और श्रीलंका के दिलरूवान परेरा हैं जिन्होंने 5-5 बार एल्गर को टेस्ट मैचों में अपना शिकार बनाया है.

डु प्लेसिस को 5वीं बार बनाया अपना शिकार

अश्विन ने इस टेस्ट की दूसरी पारी में दक्षिण अफ्रीकी कप्तान फाफ डु प्लेसिस को विकेटकीपर रिद्धिमान साहा के हाथों लपकवाया. टेस्ट मैचों में डु प्लेसिस कुल पांचवीं बार अश्विन के खिलाफ आउट हुए. अश्विन टेस्ट में डु प्लेसिस को सबसे अधिक बार आउट करने वाले गेंदबाज बन गए हैं.

मौजूदा टेस्ट सीरीज में 14 विकेट ले चुके हैं अश्विन

33 वर्षीय आर अश्विन मौजूदा टेस्ट सीरीज में अब तक कुल 14 विकेट अपने नाम कर चुके हैं. भारतीय टीम ने विशाखापत्तनम में खेला गया पहला टेस्ट मैच 203 रन से अपने नाम किया था. तीन मैचों की सीरीज में भारतीय टीम 1-0 से आगे है.