नई दिल्ली: भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच छह वनडे मैचों की सीरीज का पांचवां मैच पोर्ट एलिजाबेथ में खेला जायेगा. चौथा वनडे जीतने के बाद दक्षिण अफ्रीका ने सीरीज में बेहतरीन वापसी की है. इससे पहले टीम इंडिया ने लगातार तीन वनडे मुकाबले जीते. फिलहाल भारतीय टीम 3-1 से आगे चल रही है. पोर्ट एलिजाबेथ का मैदान भारतीय टीम के लिए बहुत ही खराब साबित रहा है. यहां टीम इंडिया ने अब तक खेले सभी पांच वनडे मैच हारे हैं.  भारतीय कप्तान विराट कोहली के सामने ये बड़ी चुनौती होगी कि वो इस मैदान में हार के सिलसिले को तोड़ें.

चौथे वनडे में हार का सामना करने के बाद कप्तान विराट कोहली एक नई रणनीति के साथ मैदान में उतरेंगे. भारत ने इस मैदान में पहला वनडे मुकाबला दिसम्बर 1992 में खेला था, जिसमें दक्षिण अफ्रीका ने 6 विकेट से जीत हासिल की थी. वहीं इसके बाद फरवरी 1997 में दक्षिण अफ्रीका ने भारत को 6 विकेट से हराया.

भारत को चौथे वनडे में हराने के बाद द.अफ्रीका पर आईसीसी ने लगाया जुर्माना, पढ़ें वजह

अक्टूबर 2001 में भारतीय टीम का केन्या से मुकाबला हुआ. इस मैच में भी भारत को 70 रन से हार का सामना करना पड़ा. उस मैच में केन्या ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट खोकर 246 रन बनाए. इसके जवाब में उतरी टीम इंडिया 176 रन पर ऑलआउट हो गयी. भारतीय टीम ने सौरव गांगुली की कप्तानी में यह मुकाबला खेला था.

एक बार फिर से इस मैदान में टीम इंडिया ने नवम्बर 2006 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे मैच खेला, जिसमें भारतीय टीम 80 रन से हार गयी. इसके बाद भारत ने आखिरी वनडे जनवरी 2011 में खेला. इस मैच में भी दक्षिण अफ्रीका ने भारत को 48 रन से हरा दिया.

VIDEO: सबसे खतरनाक कैच लेकर इस अफ्रीकी खिलाड़ी ने किया हैरान, विरोधी टीम भी रह गई दंग

बता दें कि इस मैदान में सबसे ज्यादा वनडे रन बनाने का रिकॉर्ड जैक कालिस के नाम दर्ज है. कालिस ने 18 मैचों में 670 रन बनाए हैं. वहीं टीम के दिग्गज खिलाड़ी एबी डीविलियर्स चौथे स्थान पर हैं. उन्होंने 15 मैचों में 464 रन बनाए हैं. 2011 में खेले गए भारत बनाम दक्षिण अफ्रीका मुकाबला में विराट कोहली खेल चुके हैं. उस मैच में कोहली 87 रन बनाए थे. पोर्ट एलिजाबेथ में भारत का अब तक का रिकॉर्ड अच्छा नहीं रहा है. लिहाजा इस बार यह देखना दिलचस्प होगा कि टीम इंडिया किस तरह का प्रदर्शन करती है.

भारत के पोर्ट एलिजाबेथ में खेले मैचों का परिणाम 

  1. दिसंबर 1992 बनाम दक्षिण अफ्रीका 6 विकेट से हार
  2. फरवरी 1997 बनाम दक्षिण अफ्रीका 6 विकेट से हार
  3. अक्टूबर 2001 बनाम कीनिया 70 रन से हार
  4. नवंबर 2006 बनाम दक्षिण अफ्रीका 80 रन से हार
  5. जनवरी 2011 बनाम दक्षिण अफ्रीका 48 रन से हार