नागरिकता संशोधन बिल के विरोध में लगातार जारी विरोध प्रदर्शनों के बीच रविवार को भारत और श्रीलंका टी20 सीरीज का पहला मुकाबला खेलेंगे. भारी सुरक्षा व्‍यवस्‍था के बीच यह मैच खेला जाएगा. मैच देखने आने वाले दर्शकों के लिए असम क्रिकेट संघ (ASA) ने कुछ गाइडलाइन जारी की हैं. Also Read - ICC World Cup Super League points table: द. अफ्रीका को हराकर दूसरे स्‍थान पर पहुंचा पाकिस्‍तान, भारत की हालत पतली

पढ़ें:- मोहम्‍मद शमी ने समझा दिल्‍ली का दर्द, VIDEO बनाकर दिखाई 5 किलोमीटर लंबे जाम की स्थिति Also Read - मैं रिषभ पंत से प्रभावित हूं क्योंकि मुझे लगता है कि वो मैचविनर है: BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली

गुवाहाटी के बरसापारा क्रिकेट स्टेडियम में होने वाले इस मुकाबले के दौरान कोई भी दर्शक अपने साथ पोस्‍टर बैनर लेकर नहीं आ सकेगा. एएसए के सचिव ने हिन्‍दुस्‍तान टाइम्‍स अखबार से बातचीत के दौरान कहा, “बैनर, पोस्‍टर, प्‍ले कार्ड को मैच के दौरान बैन करने का ताल्‍लुक NRC और CAA को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शन से बिल्‍कुल भी नहीं है. यह एक अंतरराष्‍ट्रीय मुकाबला होने वाला है, जिसे देखते हुए सुरक्षा व्‍यवस्‍था को लेकर हम काफी चिंतित हैं. सुरक्षा के मध्‍यनजर ही यह निर्णय लिया गया है.” Also Read - माइकल वॉन: रक्षात्‍मक बल्‍लेबाजी कर रही है टीम इंडिया, आखिरी 10 ओवर में आती है रन बनाने की याद

मैच के दौरान आम तौर पर फैन्‍स चौका व छक्‍का लिखे हुए प्‍ले कार्ड हाथ में लेकर स्‍टेडियम में पहुंचते हैं. उनके हाथ में अपने पसंदीदा खिलाड़ी वाले पोस्‍टर व स्‍लोगर भी अमूमन दिख जाते हैं, लेकिन गुवाहाटी टी20 मुकाबले में ऐसा नजारा देखने को नहीं मिलेगा. फैन्‍स को पैन और मार्कर ले जाने की इजाजत भी नहीं दी गई है.

पढ़ें:- U-19: विश्‍व कप से ठीक पहले कप्‍तान प्रियम गर्ग ने शतक ठोककर दिलाई भारत को जीत

NRC और CAA को लेकर प्रदर्शन को देखते हुए असम में हालात बेहद गंभीर बने हुए हैं. एहतियातन अमस में इंटरनेट सेवा भी फिलहाल बंद है. भारी सुरक्षा व्‍यवस्‍था के बीच ही श्रीलंका की टीम क्रिकेट मैच खेलने के लिए असम पहुंची है.