नागपुर। कोलकाता में खेले गए पहले टेस्ट मैच में ड्रॉ से खुश श्रीलंका के कप्तान दिनेश चांदीमल ने गुरुवार को कहा कि वह भारत के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में ‘कुछ चमत्कार कर’ इस देश में अपना पहला टेस्ट मैच जीत सकते हैं. दोनों टीमें शुक्रवार से विदर्भ क्रिकेट संघ स्टेडियम में आमने-सामने होंगी. चांदीमल ने दूसरे टेस्ट मैच की पूर्व संध्या पर संवाददाता सम्मेलन में कहा कि अगर आप भारतीय टीम को देखते हैं तो वह बेहद अच्छी टीम है. हमारे लिए यहां आकर मैच जीतना या सीरीज जीतना बड़ी चुनौती है, लेकिन मैं आश्वस्त हूं कि हम यहां कुछ चमत्कार कर सकते हैं.

उन्होंने कहा कि हमें अपनी बुनियादी चीजें को सही से लागू करना होगा और अपनी रणनीति पर टिके रहना होगा. मध्य में हमें हमारी योजना का क्रियान्वान करना होगा. अगर हम ऐसा कर पाए तो हम भारत पर दबाव बना सकते हैं. हम एक टीम के तौर पर इसे देख रहे हैं. चांदीमल ने उम्मीद जताई है कि बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज रंगना हेराथ वीसीए स्टेडियम की विकेट पर मददगार साबित होंगे. इस विकेट पर ईडन गार्डन्स की अपेक्षा कम घास है जिससे स्पिनरों को मदद मिल सकती है.

हेराथ ने कोलकाता टेस्ट की दो पारियों को मिलाकर कुल आठ ओवर ही डाले थे. चांदीमल ने कहा कि इस विकेट पर हेराथ काफी उपयोगी साबित हो सकते हैं. ईडन की घासयुक्त विकेट पर वह ज्यादा कुछ नहीं कर पाए थे. उन्होंने कहा कि कोलकाता की तरह इस विकेट पर ज्यादा घास नहीं है. हमने ईडन गार्डन्स पर काफी घास देखी थी। इस पर कोलकाता की अपेक्षा कम घास है. 

विराट कोहली ने BCCI को फिर दिखाया आईना, दक्षिण अफ्रीका दौरे की तैयारी के लिए वक्त ही नहीं

विराट कोहली ने BCCI को फिर दिखाया आईना, दक्षिण अफ्रीका दौरे की तैयारी के लिए वक्त ही नहीं

मेहमान टीम के कप्तान ने कहा कि यह अच्छी टेस्ट पिच लग रही है. एक टीम के तौर पर यह हमारे लिए चुनौती है. हम इस मैच के लिए पूरी तरह से तैयार हैं. उन्होंने कहा कि पहले कुछ दिन बल्लेबाजों के लिए अच्छे होंगे. इसके बाद इससे स्पिनरों को मदद मिल सकती है. मेरे हिसाब से यह इस तरह की विकेट है.

श्रीलंका में भारत के खिलाफ खेली गई आखिरी सीरीज के बारे में चांदीमल ने कहा कि हमने श्रीलंका में भारत के खिलाफ खेली गई सीरीज से काफी कुछ सीखा है. उन्होंने कहा कि अहम बात यह है कि हम यहां जीतने आए हैं. हमारा नजरिया बदला है. हमारी फील्डिंग में भी काफी बदलाव हुआ है. टीम में काफी ऊर्जा है.