नई दिल्ली. निदाहस ट्रॉफी में भारत ने बांग्लादेश को हराते हुए अपनी जीत का खाता खोल लिया है. ये इस ट्राएंगुलर T20 सीरीज में भारत का दूसरा मैच था. बांग्लादेश ने भारत को जीत के लिए 140 रन का टारगेट दिया था , जिसे टीम इंडिया ने धवन के धाकड़ खेल की वजह से 6 विकेट से जीत लिया. Also Read - अगस्त-सितंबर में टीम इंडिया का कैंप लगाने के बारे में सोच रही है बीसीसीआई

Also Read - फ्लॉप XI में मनोज तिवारी का नाम देख भड़की पत्नी सुष्मिता

बांग्लादेश के खिलाफ लगातार छठी जीत Also Read - ट्विटर पर #युवराज_सिंह_माफी_मांगो कर रहा ट्रेंड, जानिए वजह

इस शानदार जीत के साथ इंटरनेशनल T20 में बांग्लादेश पर भारत का अजेय रिकॉर्ड भी बरकरार है. ये बांग्लादेश के खिलाफ लगातार छठी T20 जीत थी. भारत ने इससे पहले एक बार बांग्लादेश को नॉटिंघम में हराया था, 3 बार मीरपुर में जबकि एक बार बेंगलुरु में शिकस्त दी थी.

धवन का धमाका, टीम इंडिया का खुला खाता

टीम इंडिया के लिए कोलंबो में एक बार फिर शिखर धवन ने शानदार पारी खेली. अपने लाजवाब फॉर्म को बरकरार रखते हुए धवन ने धुआंधार अर्धशतक जड़ा . धवन ने 43 गेंदों पर 55 रन बनाए जिसमें 5 चौके और 2 छक्के शामिल रहे. ये इस सीरीज में धवन के बल्ले से निकला लगातार दूसरा अर्धशतक है. जबकि उनके T20 करियर का छठा अर्धशतक है. वहीं, ये बांग्लादेश के खिलाफ T20 क्रिकेट में धवन का दूसरा इंटरनेशनल अर्धशतक है.

धवन ने रोहित के साथ पारी की शुरुआत जोरदार की. रोहित ने कुछ अच्छे हाथ दिखाए तो लगा कि वो रंग में लौटेंगे लेकिन वो मुस्तफिजुर की अंदर आती एक गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए. इसके बाद भारत ने रिषभ पंत को रैना से ऊपर भेजा लेकि भारतीय टीम का ये दांव नाकाम हो गया. पंत सिर्फ 7 रन बनाकर पवेलियन लौट गए. लेकिन इसके बाद आए सुरेश रैना ने शिखर धवन का अच्छा साथ दिया. दोनों के बीच चौथे विकेट के लिए 68 रन की बेहतरीन साझेदारी हुई. इस साझेदारी में रैना का योगदान 28 रन का रहा.

उनादकट और शंकर ने मिलकर जड़ा 'पंच', बांग्लादेश की बत्ती गुल

उनादकट और शंकर ने मिलकर जड़ा 'पंच', बांग्लादेश की बत्ती गुल

शिखर धवन 55 रन के निजी स्कोर पर आउट हुए. लेकिन पवेलियन लौटने से पहले धवन मैच को उस मुकाम तक ला चुके थे जहां से मनीष पांडे और दिनेश कार्तिक के लिए जीत की स्क्रिप्ट लिखना आसान हो गया था. पांडे ने 19 गेंदों पर नाबाद 27 रन बनाए तो वहीं कार्तिक 2 रन बनाकर नॉट आउट रहे.

इस दमदार जीत के साथ भारत ने ट्राएंगुलर T20 सीरीज में जीत का स्वाद चख लिया है और अब उम्मीद है कि ये स्वाद टीम इंडिया की सीरीज जीत की भूख को मिटाकर ही दम लेगा.