भारतीय पहलवान नरसिंह पंचम यादव के रियो ओलम्पिक में हिस्सा लेने पर मंगलवार को संदेह के नए बादल छा गए। विश्व डोपिंग रोधी एजेंसी (वाडा) ने मंगलवार को नरसिंह को मिली क्लीन चिट के खिलाफ खेल पंचाट न्यायालय (सीएएस) में अपील दायर की है। भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष ब्रिजभूषण शरण सिंह ने आईएएनएस को बताया, “जी हां, वाडा ने नरसिंह को रियो में हिस्सा लेने के लिए मिली मंजूरी के खिलाफ सीएएस में अपील की है। सीएएस मामले पर 18 अगस्त को सुनवाई करेगा।” Also Read - क्या भाजपा में शामिल होने जा रहे हैं सौरव गांगुली? बंगाल चुनाव से पहले दादा ने खुद किया बड़ा खुलासा

 

यह भी पढेंः रियो ओलम्पिकः आप भारत की सारी उम्मीदें नरसिंह यादव और योगेश्वर पर टिकीं

भारत की ओर से पदक के बड़े दावेदार नरसिंह का रियो ओलम्पिक में पहला मुकाबला 19 अगस्त को होना है, जबकि उनके मामले पर सुनवाई उससे ठीक एक दिन पहले होनी है। बीते वर्ष विश्व चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीतकर नरसिंह ने ओलम्पिक के लिए क्वालिफाई किया था। हालांकि रियो ओलम्पिक शुरू होने से ठीक पहले 25 जून को भारत की राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी (नाडा) की जांच में वह प्रतिबंधित पदार्थ के सेवन के दोषी पाए गए थे और उन पर अस्थायी प्रतिबंध लगा दिया गया था। हालांकि नाडा ने बाद में उन्हें यह कहकर प्रतिबंध मुक्त कर दिया था कि वह साजिश का शिकार हुए थे।